राजस्थान में कोरोना बेकाबू, 15 दिन का लग सकता है इन जिलों में लॉकडाउन, कैबिनेट मीटिंग में फैसला

Smart News Team, Last updated: Sun, 18th Apr 2021, 12:53 PM IST
  • राजस्थान मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के आवास पर दोपहर 12.30 से कैबिनेट मीटिंग शुरू हो गई है. राजस्थान में कोरोना के हालात देखते हुए कई जिलों में 15 दिन का सख्त लॉकडाउन लगाने का फैसला लिया जा सकता है.
सीएम अशोक गहलोत मुख्यमंत्री आवास पर करेंगे कैविनेट मीटिंग.

जयपुर: देशभर में कोरोना के मामले बढ़ने के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत आज कैबिनेट बैठक कर रहे हैं. बैठक दोपहर 12:30 बजे सीएम आवास पर शुरु हो गई है. जिसमें कई जिलों में जिलाधिकारी शामिल हुए हैं. यह भी संभावना जताई जा रही है कि जिन जिलों में कोरोना के केस बढ़े है उनमें 15 दिनों का लॉकडाउन लगाया जा सकता है. जयपुर, जोधपुर उदयपुर, बीकानेर, कोटा आदि बड़े शहरों में लॉकडाउन लगाने पर विचार किया जा रहा है. 

शनिवार को भी सीएम गहलोत ने मुख्यमंत्री आवास पर करीब साढे तीन घंटे समीक्षा बैठक की थी. बैठक के बाद उन्होंने कहा कि कोरोना के कारण देश में हालात नाजुक होते जा रहे है. इससे निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जल्द से जल्द सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक करनी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोविड पर नियंत्रण के लिए राष्ट्रीय स्तर पर कार्ययोजना बनानी चाहिए. बता दें कि शनिवार को राजस्थान में कोरोना के 9046 मामले सामने आए हैं, वहीं 37 लोगों की मौत भी हो गई है.

CM गहलोत बोले- कोरोना के लिए नेता भी दोषी, चाहते तो कर सकते थे वर्चुअल रैली

सीएम ने आधिकारियों को दिए निर्देश

सीएम गहलोत ने आधिकारियों को निर्देश दिए है कि प्राइवेट लैब्स में अब कोरोना टेस्ट 500 रुपये की जगह 350 रुपये में होगा. इसके अलावा सभी जिलों में ऑक्सीजन आपूर्ति के लिए रूट चार्ट बनाने का कार्य तेजी से करे. ताकि जरूरत पड़ने पर सभी जगहों पर जल्द से जल्द आपूर्ति की जा सके. इसके अलावा RTPCR जांचों की रिपोर्ट में तेजी लाने के लिए सीएम ने आधिकारियों को निर्दश दिए है. 

Exams 2021: कोरोना के कारण यूपी बीएड प्रवेश परीक्षा टली, जानें नई डेट कब होगी घोषित

पांच साल से रिलेशनशिप में है ये जोड़ा फिर भी नहीं कर पा रहे शादी, जानें क्यों

कोरोना की मार के बीच CM गहलोत की नई कोरोना गाइडलाइन, BJP नेता भी कर रहे तारीफ

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें