जयपुर: कांग्रेस नेता सचिन पायलट के जन्मदिन से पहले 10 लाख पौधे लगाएंगे समर्थक

Ankul Kaushik, Last updated: Mon, 6th Sep 2021, 12:10 PM IST
  • राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के समर्थकों ने उनके जन्मदिन से पहले एक योजना बनाई है. सचिन पायलट का जन्मदिन 7 सितंबर को है और इससे पहले उनके समर्थकों ने 10 लाख पौधे लगाने की योजना बनाई है.
कांग्रेस विधायक सचिन पायलट के जन्मदिन से पहले 10 लाख पौधे लगाएंगे उनके समर्थक, (फाइल फोटो)

राजस्थान. राजस्थान के पूर्व उपमुख्यमंत्री और कांग्रेस विधायक सचिन पायलट के जन्मदिन से पहले उनके समर्थकों ने एक योजना बनाई है. टोंक विधायक सचिन पायलट का कल 7 सिंतबर को जन्मदिन है. इससे पहले पायलट समर्थको ने उनके जन्मदिन से पहले 10 लाख पौधे लगाने की योजना बनाई है. इस अभियान के जरिए पायलट समर्थकों का उद्देश्य यह है कि पूरे राजस्थान में सचिन पायलट को लोगों का समर्थन प्राप्त है. कांग्रेस विधायक सचिन पायलट के समर्थकों ने दावा किया है कि वह इस अभियान के जरिए एक दिन में 6.11 लाख पौधे लगाने का रिकॉर्ड को पीछे छोड़ देंगे. एक दिन में 6.11 लाख पौधे डूंगरपुर में साल 2009 में तत्कालीन जिला कलेक्टर के नेतृत्व में स्वयंसेवकों की एक टीम ने लगाए थे.

इस अभियान को लेकर पायलट गुट के एक नेता ने कहा कि हमने राज्य-स्तरीय पर एक अभियान की योजना बनाई है जिसमें कुछ दिनों में पौधे लगाए जाएंगे. इन पौधों के लिए पानी के टैंकरों की व्यवस्था की गई है. वहीं प्रदेश में होने वाले वृक्षारोपण अभियान को लेकर पीसीसी के पूर्व महासचिव महेश शर्मा ने कहा प्रदेश की 200 विधानसभा क्षेत्रों में कम से कम 5,000 पौधे लगाए जाएंगे. जिसमें जयपुर, भरतपुर, कोटा और अजमेर में अधिक पौधरोपण होगा. 

नेशनल मोनेटाइजेशन पाइपलाइन पर बोले सचिन पायलट- कौड़ी के भाव लुटा रही सरकार

इस वृक्षारोपण अभियान की तैयारी को लेकर प्रदेश में कई दिनों से तैयारी चल रही है और इसके लिए पौधे खरीदे गए हैं. इसके साथ ही वृक्षारोपण अभियान को लेकर नागौर की लाडनूं से कांग्रेस विधायक मुकेश भाकर ने कहा कि सार्वजनिक स्थानों, स्थानीय निकायों, स्कूलों और पार्कों में इस अभियान के तहत पौधे लगाए जाएंगे. हमें उम्मीद है कि पौधों की संख्या 10 लाख के आंकड़े को पार होगी.

सिद्धू की ताजपोशी से बुलंद सचिन पायलट बोले- मेहनत के हिसाब से रिवार्ड सबको मिले

बता दें कि सचिन पायलट के समर्थकों द्वारा शुरू होने वाले इस अभियान से साफ हो जाएगा कि पायलट को पूरे राज्य में लोगों का समर्थन प्राप्त है. एक ऐसा ही रिकॉर्ड अभियान पिछले साल चलाया गया था जिसमें रक्तदान अभियान चलाया गया था. इस रिक्त अभियान में 400 शिविरों में लगभग 45,000 यूनिट एकत्रित किया गया था. आपको बता दें कि पायलट और उनका समर्थन करने वाले विधायकों ने पिछले साल मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ बगावत की थी. इस बगावत के बाद सचिन पायलट को राजस्थान पार्टी प्रमुख और राजस्थान के उपमुख्यमंत्री के पद से हटा दिया गया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें