राजस्थान शिक्षक भर्ती में केंडीडेट्स की वैकेंसी बढ़ाने की मांग, ट्विटर पर ट्रेंड में #REET-50000 गहलोतजी

Swati Gautam, Last updated: Tue, 21st Dec 2021, 8:38 PM IST
  • राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) 2021 के सैकड़ों अभ्यर्थी पिछले कई महीने से मांग कर रहे हैं कि REET 2021 में शिक्षक भर्ती के पदों की संख्या 31,000 से बढ़ाकर 50,000 की जाए. यह मांग अब सोशल मीडिया पर भी तेज हो गई है. मंगलवार को ट्विटर पर #REET_50000_गहलोतजी ट्रेंड कर रहा है.
राजस्थान शिक्षक भर्ती में केंडीडेट्स की वैकेंसी बढ़ाने की मांग

जयपुर. राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) 2021 के सैकड़ों अभ्यर्थी पिछले कई महीने से मांग कर रहे हैं कि REET 2021 में शिक्षक भर्ती के पदों की संख्या 31,000 से बढ़ाकर 50,000 की जाए. इस बार अभ्यर्थियों ने नए अंदाज में सोशल मीडिया पर अभियान चलाकर अपनी मांग को तेज कर दिया है. ट्विटर पर #REET_50000_गहलोतजी हैशटैग ट्रेंड कर रहा है. मंगलवार को करीब 5 लाख (476k) अभ्यर्थियों ने #REET_50000_गहलोतजी हैशटैग को ट्वीट या रिट्वीट किया है. वहीं, कुछ बीएसटीसी डिप्लोमा होल्डर और बीएड डिग्री धारक सैकड़ों अभ्यर्थी लगातार इस मांग को लेकर जयपुर के शहीद स्मारक पर भी धरना दे रहे हैं.

लोगों ने ट्विटर पर शेयर की क्रिएटिव तस्वीरें और पोस्टर्स

REET 2021 में शिक्षक भर्ती के पदों की संख्या 31,000 से बढ़ाकर 50,000 करने की मांग को लेकर सोशल मीडिया पर कई लोगों ने क्रिएटिव तरीके से पोस्टर्स और तस्वीरें भी शेयर की हैं और साथ में #REET_50000_गहलोतजी भी लगाया है. वहीं, कुछ लोगों ने #REET_50000_गहलोतजी के ट्विटर पर ट्रेंड होने की खुशी जताते हुए स्क्रीनशॉट भी शेयर किए हैं. बता दें कि राजस्थान में तृतीय श्रेणी शिक्षकों की भर्ती पूरे 4 साल बाद हो रही है. इसीलिए बेरोजगारों की मांग है कि शिक्षकों के पदों की संख्या बढ़ाई जाए.

क्रिसमस और नए साल पर हवाई सफर करना पड़ेगा जेब पर भारी, डबल हो गया किराया

राजस्थान में एक लाख से ज्यादा शिक्षकों के पद खाली

अभ्यर्थियों का कहना है कि राजस्थान में करीब एक लाख से ज्यादा शिक्षकों के पद खाली है. एक तरफ सरकार सरकारी विद्यालयों में नामांकन बढ़ाने पर जोर दे रही है और दूसरी तरफ रिक्त पड़े शिक्षक पदों की भर्तियां नहीं कर रही है. अभ्यर्थियों को मांग की है कि REET 2021 में शिक्षक भर्ती के पदों की संख्या 31,000 से बढ़ाकर 50,000 की जाए. जयपुर के शहीद स्मारक पर धरने पर बेरोजगार सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक पर अभियान चला रहे हैं लेकिन सरकार की और से अभी तक कोई सकारात्मक प्रतिक्रिया नहीं आई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें