राजस्थान सरकार ने जारी की गाइडलाइन, हेरिटेज सम्पत्तियों को होटल में बदलने की छूट

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Jul 2021, 5:06 PM IST
  • राजस्थान सरकार ने हेरिटेज होटलों को स्वतंत्र रूप से रेस्टोरेन्ट के रूप में संचालित करने की छूट दे दी है। हेरिटेज होटल पॉलिसी के तहत ही बार लाइसेंस देने की तैयारी की जा रही है।  
आमेर का किला (तस्वीर साभार: राजस्थान पर्यटन विभाग की आधिकारिक वेबसाइट)

जयपुर. प्रदेश में हेरिटेज किले, महल व पुरामहत्व की संपत्तियों को हेरिटेज होटल में बदला जा सकेंगा। प्रदेश में इस प्रकार की हेरिटेज व पुरामहतत्व की बढ़ी संख्या में संपत्तियां है। इन पुरामहत्व की संपत्तियों में अधिकांश निजी स्वामित्व की है। राज्य सरकार ने हेरिटेज टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए हेरिटेज प्रॉपर्टीज-2021: गाइडलाइन जारी की गई। इसकों लेकर मुख्य सचिव की अध्यक्षता में विभागीय सचिवों और पर्यटन उद्योगों से जुड़े प्रतिनिधियों के साथ बैठक हुई।

बैठक के दौरान एसोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स तथा होटल एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने कोरोना काल में बिजनेस नहीं होने के कारण राज्य सरकार से विभिन्न प्रकार के करों में रियायत के लिए मांग की। 

राजस्थान: सहकारी समिति और उपभोक्ता भंडार की भर्ती परीक्षा 17 जुलाई को होगी

एसोसिएशन ने हेरिटेज होटलों के एक भाग को स्वतंत्र रूप से रेस्टोरेन्ट के रूप में संचालित करने पर इन्हें भी हेरिटेज प्रमाणपत्र देने तथा हेरिटेज होटल पॉलिसी के तहत ही बार लाइसेंस देने का भी आग्रह किया। उद्योग प्रतिनिधियों ने ग्रामीण पर्यटन को ध्यान रखते हुए गांवों में पर्यटन से संबंधित इकाई लगाने पर करों में छूट की मांग भी रखी।

मुख्य सचिव निरंजन आर्य ने कहा है कि पर्यटन राजस्थान की अर्थव्यवस्था का एक महत्त्वपूर्ण घटक है। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी के कारण राज्य के पर्यटन उद्योग पर पड़े प्रभाव के समाधान के लिए राज्य सरकार की ओर से गंभीर प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंन कहा कि पर्यटन से जुड़े हितधारकों को कोरोना के कारण जिन वित्तीय हालातों का सामना करना पड़ा है, उन्हें राहत देने के लिए राज्य सरकार द्वारा संवेदनशीलता से विचार किया।

बीवीजी कंपनी रिश्वत मामला: ACB ने राजाराम गुर्जर को फिर रिमांड पर लिया

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें