गहलोत सरकार की हुई प्रशंसा, अभिभाषण के दौरान सदन में BJP विधायकों ने किया हंगामा

Mithilesh Kumar Patel, Last updated: Wed, 9th Feb 2022, 3:40 PM IST
  • राजस्थान में बुधवार को राज्यपाल कलराज मिश्र के अभिभाषण के साथ बजट सत्र की शुरुआत हुई. इस दौरान उन्होंने ने सीएम अशोक गहलोत के नेतृत्व में चल रही सरकार के कामों की काफी प्रशंसा की. अभिभाषण के दौरान भाजपा विधायकों ने सदन में REET पेपर लीक मामले की CBI जांच कराने को लेकर तख्तियां लहराते हुए विरोध किया.
राजस्थान सरकार की प्रशंसा के साथ बजट सत्र की शुरूआत

जयपुर. राजस्थान में विधानसभा का बजट सत्र बुधवार 9 फरवरी से राज्यपाल कलराज मिश्र के अभिभाषण के साथ शुरू हो गया है. इस दौरान राज्यपाल मिश्र ने सीएम अशोक गहलोत के नेतृत्व में चल रही राज्य सरकार की काफी प्रशंसा की है. उन्होंने अभिभाषण के दौरान कहा कि कोरोना प्रबंधन में राजस्थान देश भर में माॅडल स्टेट बना है. गहलोत सरकार ने कोविड काल में 1815 करोड़ खर्च कर सूबे के 33 लाख परिवारों को सहायता मुहैया कराई.

राज्यपाल ने कहा कि कोरोना काल में सरकार ने प्रदेशवासियों को भूखा सोने नहीं दिया. महामारी के समय पलायन हुए मजदूर जब घर वापसी के लिए पैदल चल रहे थे तब गंतव्य स्थल तक उन्हें पहुंचाने के लिए सरकार ने वाहन की व्यवस्था कराए.

राजस्थान के 25 हजार आंगनबाड़ी केंद्र बनेंगे नंद घर, CM गहलोत ने दी मंजूरी

बजट सत्र के शुरुआत में राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान ही भाजपा विधायकों ने REET पेपर लीक मामले की जांच CBI से कराने की मांग की. इसके लिए विपक्षी भाजपा विधायकों ने राज्यपाल के समक्ष सदन में तख्तियां लहराई. वरिष्ठ भाजपा विधायक व मौजूदा नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया सीबीआई जांच की मांग के समय वेल में आकर बैठक गए. 

कल तक के लिए सदन का कार्यवाही रद्द

मिली जानकारी के अनुसार, राज्यपाल कलराज मिश्र के अभिभाषण के बाद विधानसभा में स्वर कोकिला लता मंगेशकर, पूर्व सीडीएस बिपिन रावत और अन्य दिवंगत नेताओं को श्रद्धाजंलि दिया जाएगा. विपक्ष के विधायकों के हंगामे के बीच सदन का कार्यवाही कल तक के लिए रद्द किए जाने की खबर मिल रही है.

सदन में तख्तियां लहराकर भाजपा विधायकों ने जताया विरोध

बता दें कि सदन में बुधवार को राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान भाजपा विधायकों ने रीट पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से मांग की साथ ही उन्होंने विरोध में तख्तियां भी लहराई. सदन में अपनी मांगो को लेकर विरोध प्रदर्शन कर रहे विधायको से राज्यपाल ने शांति बनाने और बैठने का आग्रह किया. हंगामे का हवाला देते हुए राज्यपाल कलराज मिश्र ने कहा कि सदन तो ऐसे ही चलेगा. आप बैठ जाएंगे तो अच्छा रहेगा. 

बुधवार को ही सदन में रीट पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग को लेकर RLP के तीनों विधायकों ने भी अपना विरोध प्रदर्शन दर्ज कराया. इस दौरान सदन के वेल में भी तख्तियां लेकर विरोध जता रहे विधायक पहुंचे. इस पर भाजपा के प्रवक्ता रामलाल शर्मा ने कहा कि गहलोत सरकार से रीट भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले की जांच सीबीआई से कराने की मांग बरकरार है.

23 फरवरी को आ सकता है आगामी सत्र का बजट

सदन में बुधवार को चल रहे अभिभाषण के बाद बजट सत्र के तारीख का ऐलान होगा. आशंका जताई जा रही है किआगामी सत्र का बजट 23 फरवरी को आ सकता है. बता दें कि सीएम गहलोत के पास वित्त विभाग की जिम्मेदारी है. यही कारण है कि राज्य का बजट वहीं पेश करेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें