मंदिर जमीन विवाद में पुजारी को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया, जयपुर में मौत

Smart News Team, Last updated: 09/10/2020 12:44 PM IST
  • राजस्थान के करौली जिले में एख पुजारी को जिंदा जला दिया गया. गुरुवार को पुजारी को इलाज के लिए जयपुर के अस्पताल में भर्ती करवाया था. जहां शुक्रवार को पुजारी की मौत हो गई.  
मंदिर जमीन विवाद में पुजारी को पेट्रोल डालकर जिंदा जलाया, जयपुर में मौत

जयपुर. राजस्थान में करौली जिले के सपोटरा में बकना गांव में मंदिर की जमीन विवाद पर पुजारी को जिंदा जला दिया. बताया गया कि जमीन पर हुए अतिक्रमण के दौरान विवाद हुआ जिसपर कुछ लोगों ने पुजारी को कथित रूप से जिंदा जलाया. पुजारी को जयपुर के अस्पताल में इलाज के लिए भर्जी किया गया था. जहां शुक्रवार को मंदिर के पुजारी ने दम तोड़ दिया. इसके बाद ग्रामिणों ने हंगामा किया.

गांव में हंगामें के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी कैलाश मीणा को गिरफ्तार कर लिया है. इस मामले में करौली राजस्थान के एसपी, मृदुल कच्छवा ने कहा कि पुजारी बाबूलाल ने अस्पताल में पुलिस को एक बयान दिया कि आरोपी कैलाश मीणा और उनके बेटों सहित कुछ प्रभावशाली लोगों ने उसकी जमीन पर अतिक्रमण करने की कोशिश की और विवाद के दौरान आरोपियों ने उस बाड़ को आग लगा दी जिसमें पुजारी गंभीर रूप से जल गए थे. एसपी ने कहा कि मामले की जांच के लिए छह टीमें बनाई गई हैं. अन्य आरोपियों को पकड़ने का प्रयास जारी है.

जयपुर से पुलिस ने गिरफ्तार की महिला अफीम तस्कर, 510 ग्राम अफीम हुई बरामद

कहा जा रहा है कि पुजारी बाबूलाल वैष्णव ने बयान में बताया कि मेरा परिवार 15 बीघा मंदिर माफी जमीन पर खेती करता था. आरोपी कैलाश, शंकर और नमो मीणा ने उसके बाड़े में कब्जा कर लिया. पंच-पटेलों ने पुजारी के अलावा किसी अन्य व्यक्ति की ओर से मंदिर की जमीन पर कब्जा ना करने का फरमान दिया था, जिसके बाद बुधवार को कैलाश, शंकर, नमो, किशन, रामलखन और परिवार के बाड़े पर कब्जा कर छप्पर तानने लग गए. विवाद बढ़ा तो उन्होंने बाढ़ में आग लगा दी.

जयपुर: जेल परिसर में पेट्रोल पंप की शुरुआत, 150 बंदी 3 शिफ्ट में संभालेंगे काम

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें