राजस्थान: मंदिर की छत पर ले जाकर पुजारी ने किया रेप, महिला हुई प्रेगनेंट तो सच आया सामने

Swati Gautam, Last updated: Sun, 31st Oct 2021, 8:45 PM IST
  • राजस्थान के श्रीगंगानगर शहर की महिला ने कहा कि तीन महीने पहले पुजारी ने मंदिर की छत पर ले जाकर कमरे में उसके साथ रेप किया था. विरोध करने पर जान से मारने और बदनाम करने की धमकी दी. महिला जब गर्भवती हो गई तो परिजनों को घटना के बारे में पता चला और पुलिस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई.
राजस्थान: मंदिर की छत पर ले जाकर पुजारी ने किया रेप, महिला हुई प्रेगनेंट. फाइल फोटो

जयपुर. आए दिन राजस्थान में दुष्कर्म और महिला उत्पीड़न के मामले सामने आते रहते हैं और यह आंकड़ा दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है. ऐसी ही एक खबर राजस्थान के श्रीगंगानगर शहर से आई जहां एक मंदिर के पुजारी ने सेवा कार्य के लिए आने वाली महिला के साथ रेप किया. महिला के विरोध करने पर जान से मारने और बदनाम करने की धमकी दी. महिला जब गर्भवती हो गई गई तो यह घटना परिजनों को पता चली. पीड़िता ने परिजनों को बताया कि तीन महीने पहले वह शहर के हनुमान मंदिर में पूजा करने गई थी जहां पुजारी ने मंदिर की छत पर ले जाकर एक कमरे में उसके साथ रेप किया था. पीड़िता के परिजनों ने पुलिस थाने में आरोपी पुजारी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई है.

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि हनुमान मंदिर में पुजारी रामबालक लोगों से पूजा कराता है और पुजारी वहीं रहता है. राम बालक पिछले दो साल से महिला से मंदिर में पूजा-अर्चना कराता था इसलिए महिला को भी पुजारी पर विश्वास था. पीड़िता ने आगे कहा कि करीब तीन महीने पहले पुजारी रामबालक उसे मंदिर की छत पर बने कमरे में ले गया और वहां उसके साथ जबरदस्ती रेप किया. महिला ने पुजारी की इस हरकत का विरोध किया तो पुजारी ने उसे जान से मारने की धमकी दी. किसी को बताने पर भी पीड़िता को जान से मारने और बदनाम करने की भी धमकी दी.

बेटे ने बेरहमी से पिता को मौत के घाट उतारा, बोला- अब्बा परेशान थे, जन्नत भेज दिया

पीड़िता ने कहा कि पुजारी ने उसे धमकी दी थी इसलिए उसने अपने परिजनों या किसी को इस घटना के बारे में कुछ नहीं बताया. लेकिन महिला जब गर्भवती हो गई तो परिजनों को इस घटना के बारे में पता चल गया. शनिवार को पीड़िता और उसके परिजनों ने पुलिस थाने में आरोपी पुजारी के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई. जानकारी अनुसार इस मामले की जांच महिला निवारण सेल में तैनात पुलिस उप अधीक्षक नरेंद्र पूनिया कर रहे हैं. वहीं राम बालक को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें