REET 2021 Exam Tips: रीट परीक्षा की तैयारी के लिए ना हों परेशान, ये है एक्सपर्ट की राय

Deepakshi Sharma, Last updated: Sat, 11th Sep 2021, 2:34 PM IST
  • रीट की परीक्षा के लिए केवल 15 दिन बाकी है. ऐसे में उम्मीदवारों के मन में डर बना हुआ है. साथ ही कई सवाल हैं जैसे कि आखिरी दिनों में रीट की तैयारी कैसे करें? परीक्षा से एक दिन पहले क्या करें? ऐसे ही कई सवालों के जवाब उम्मीदवारों के लिए दिए गए हैं यहां.
रीट परीक्षा अच्छे से देने के लिए अपनाएं ये टिप्स

जयपुर. रीट की परीक्षा के लिए अब बस केवल 15 दिन ही बाकी है. ऐसे में आपको अपनी पढ़ाई के लिए एक बेहतरीन रणनीति अपनाने की जरूरत है. इन आखिरी दिनों में रीट की तैयारी कैसे करनी है? रिवीजन कैसे की जाएगी? ऐसे ही कई सवालों के जवाब एक-एक करके जानिए यहां. ताकि आपको मिल सके मदद.

बाजार से नहीं खरीदें नई किताब

आपने अब तक जो भी पढ़ लिया है वो आपके लिए काफी है. अब बाजार से कोई भी नई किताब खरीदने की गलती न करें. किसी भी तरह का नए मॉडल टेस्ट पेपर आप न खरीदें. क्योंकि इसमें अपडेट जीके आपको नहीं मिलेगी. जो सिलेब्स पढ़ लिया है आप उसे रिवाइज करें.

MBBS के स्टूडेंट्स ने जारी रिजल्ट को लेकर जताई नाराजगी, ओपीडी बंद कर किया प्रिंसिपल रूम के सामने प्रदर्शन

रटे नहीं बल्कि टॉपिक को समझे

कमजोर लगने वाले सब्जेक्ट को आप बार-बार पढ़ें. लेकिन किसी भी टॉपिक को रटने का काम नहीं करें. क्योंकि परीक्षा में मल्टीपल चॉइस सवाल आएंगे. 4 ऑप्शन में से किसी एक को चुनना होगा. इसके लिए आपको कुछ भी रटने की नहीं बल्कि समझने की जरूरत है.

सभी के लिए एक जैसे रहेंगे 90 सवाल

90 सवाल रीट की परीक्षा में आने वाले हैं. मनोविज्ञान के विषय में 30 सवाल आएंगे, 15 में हिंदी और 15 हिंदी में शिक्षण विधियों के प्रश्न आने वाले हैं. सेकेंड लैंग्वेज इंग्लिश या फिर उर्दू जो भी ले रखी है. उससे भी 15 भाषा के और 15 शिक्षण विधियों के सवाल आएंगे. यानी कुल 90 प्रश्न लेवल 1 और 2 दोनों के एक जैसे ही रहने वाले हैं. लेकिन लेवल 1 और 2 के हिसाब से सवाल का लेवल अलग-अलग हो सकता है.

टाइम मैनेजमेंट का रखें ख्याल

टाइम मैनेजमेंट करना बहुत ज्यादा जरूरी है. आप आज से ही 150 प्रश्नों के साथ इसके लिए अभ्यास करना शुरू कर दें. इस बात की कोशिश करें कि पूरे 150 मिनट में आपके 150 सवाल हल हो जाएं.

परीक्षा में नहीं है नेगेटिव मार्किंग

इस परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग ने हीं. इसलिए सभी 150 सवालों के जवाब आप दें. प्रश्नों को पढ़कर उनके जवाब दीजिए. जो सवाल नहीं आते उन्हें बाद में हल करने की कोशिश करें. वही, जो पहले आते हैं उन्हें तुरंत करते जाइए.

राजस्थान में बिना टिकट यात्रा करने वालों पर सरकार का शिकंजा, इतने गुना बढ़ी जुर्माना राशि

7 दिन में ऐसे करें रिवीजन

आप किसी भी विषय को 40 मिनट से ज्यादा नहीं पढ़ें. एक किताब को 40 मिनट तक पढ़ने के बाद उसे बंद करके 5 से 7 मिनट इस बात को दोहराने की कोशिश करें कि अब तक आपने क्या पढ़ा है. यानि आप किताबें या फिर नोट्स पढ़ने के बाद दिमाग में उसे रिवाइज करें. इससे आपको आत्मविश्वास भी बढ़ता जाएगा और आपको परीक्षा में आसानी होगी.

परीक्षा से एक दिन पहले करें ये काम

परीक्षा से एक दिन पहले पढ़ाई पूरी तरह से बंद कर दीजिए. जी हां क्योंकि आखिरी वक्त में हमें लगता है कि हमें ये भी पढ़ लेना चाहिए और वो भी. ऐसे में जल्दबाजी होती है और खुद का नुकसान भी. परीक्षा से एक दिन पहले खुद को रिलेक्स करें. दिमाग में किसी भी तरह की शंका को न रखें.

घर की छत पर खेल रही थी 11 साल की मासूम बच्ची, पड़ोसी ने मुंह दबाकर किया गंदा काम

दुविधा के वक्त अपनाएं ये ट्रिक

परीक्षा के वक्त सबसे बड़ी परेशानी तब आती है जब प्रश्न एक होता है और ऑप्शन्स चार. आपके दिमाग और मन में दो आवाज आती है. ये सही या फिर गलत. तो ऐसे में दुविधा में मत पढ़िए. कन्फ्यूजन होने पर एग्जाम हॉल में अपनी आंखें बंद कर लीजिए. उसके बाद जिस किताब या फिर नोट्स से आपने पढ़ाई की है, उसमें से उत्तर का ध्यान करें और अपनी आत्म की आवाज सुनें. ऐसा करने से आपको सही ऑप्शन चुनने में मदद मिलेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें