कोरोना के बीच राजस्थान विश्वविद्यालय का फैसला अब तीन की जगह दो घंटे का होगा पेपर

Smart News Team, Last updated: Mon, 22nd Mar 2021, 10:25 AM IST
  • कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रभाव के कारण राजस्थान विश्वविद्यालय ने परीक्षाओं के समय में बदलाव किया है. राजस्थान विश्वविद्यालय ने तीन घंटे होने वाली परीक्षाओं को अब केवल दो घंटे ही कराए जाने का फैसला किया है.
राजस्थान विश्वविद्यालय

जयपुर: कोरोना वैश्विक महामारी के कारण पीछे साल 2020 में देशभर के सभी विश्वविद्यालयों व स्कूलों की परीक्षाएं रद्द करके छात्रों को प्रमोट कर दिया था. एक बार फिर से कोरोना के बढ़ते प्रभाव के बीच राजस्थान विश्वविद्यालय ने परीक्षाओं को लेकर कुछ एतियातन कदम उठाये है. राजस्थान विश्वविद्यालय ने परीक्षाओं को लेकर गाइडलाइन जारी की है. 

इस गाइडलाइन के अनुसार इस बार कोरोना के कारण पेपर 3 घंटे की जगह 2 घंटे का ही होगा. पेपर में 100 अंको के प्रश्न होंगे उनमें से परीक्षार्थियों को 60 अंक के प्रश्न ही हल करने होंगे. ऐसे में इस बार पेपर भी 60 अंको का ही होगा. परीक्ष परिणाम जारी करते समय इन 60 अंको को 100 अंक मानकर 100 फीसदी में बदला जाएगा.

परिवार की गैर-मौजूदगी में चोरों ने किया गहने-नकदी पर हाथ साफ

पिछले सत्र में स्नातक प्रथम, द्वितीय और स्नातकोत्तर प्रीवियस के छात्रों को किया था प्रमोट

पिछले सत्र में कोरोना महामारी आने से पहले ही राजस्थान विश्वविद्यालय की परीक्षाएं शुरू हो चुकी थी. कुछ पेपर होने के बाद सरकार की गाइडलाइन के बाद राजस्थान विश्वविद्यालय ने परीक्षाओं को स्थगित कर दिया था. जब कोरोना का प्रभाव अगस्त 2020 तक भी कम नहीं हुआ तो सरकार ने स्नातक प्रथम, द्वितीय और स्नातकोत्तर प्रीवियस के छात्रों को प्रमोट करने का निर्णय किया था. इसके बाद स्नातक तृतीय वर्ष और स्नात्तकोत्तर फाइनल के छात्रों के अक्टूबर में एग्जाम करवाए गए थे.

जयपुर में चेन स्नैचरों का बढ़ा आतंक, बाइक सवार बदमाशों ने तोड़ी महिला की चेन

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें