तीन दिनों बाद वैक्सीन की तीन लाख खेप पहुंचा राजस्थान, टीकाकरण अभियान में आई तेजी

Smart News Team, Last updated: Thu, 8th Jul 2021, 8:12 AM IST
राजस्थान के जयपुर सहित अन्य शहर में पिछले 3 दिनों से वैक्सीन की कमी के चलते कोविड-19 टीकाकरण की प्रक्रिया बेहद धीमी पड़ गयी थी. स्लॉट बुक होने के बावजूद भी लोग बिना टीका लगवाए ही वापस लौट रहे थे.
राजस्थान में बुधवार शाम को 3 लाख कोविड वैक्सीन का डोज पहुंचा.  (प्रतीकात्मक फोटो)

राजस्थान के जयपुर सहित अन्य शहर में पिछले 3 दिनों से वैक्सीन की कमी के चलते कोविड-19 टीकाकरण की प्रक्रिया बेहद धीमी पड़ गयी थी. स्लॉट बुक होने के बावजूद भी लोग बिना टीका लगवाए ही वापस लौट रहे थे. टीके की कमी के चलते आए दिन केंद्र पर विवाद की स्थिति उत्पन्न हो रही थी. मंगलवार की शाम 3 लाख 2 हजार वैक्सीन की डोज़ पहुंचने से अब यह समस्या दूर हो गई है. 

जयपुर सहित प्रदेश के अन्य शहरों में अब पहले की तरह ही सामान्य टीकाकरण की व्यवस्था रहेगी. प्रदेश में 2,49,540 डोज़ कोविशिल्ड की पहुंच गई है जबकि 52,950 डोज़ को-वैक्सीन की पहुंची है. केंद्र पर टीके पहुंच जाने से सभी सेंटरों पर आज से वैक्सीनेशन की प्रक्रिया सुचारू रूप से शुरू हो जाएगी. अब किसी को भी टीकाकरण केंद्र से निराश होकर लौटना नहीं होगा. साथ ही केंद्र पर टीकाकरण को लेकर हो रहे विवाद की समस्या भी दूर हो जाएगी. पिछले 3 दिनों से राजस्थान के जयपुर सहित अन्य शहरों में टीकाकरण को लेकर समस्या बनी हुई थी. सेंटर पर पर्याप्त टीके नहीं होने से स्वास्थ्यकर्मियों सहित आम जनता को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था.

राजस्थान: बदमाशों के दिनदहाड़े ताबड़तोड़ हमले से युवक की इलाज के दौरान मौत

मंगलवार को ही खत्म हो गई थी केंद्र पर कोविड-19 वैक्सीन

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों की मानें तो प्रदेश के कुछ ही सेंटरों पर वैक्सीन के कुछ डोज बचे हुए थे जिन्हें मंगलवार को ही लगा दिया गया था. बुधवार के लिए किसी भी सेंटर पर टीकाकरण की व्यवस्था उपलब्ध नहीं थी लेकिन देर शाम टीके की तीन लाख के करीब खेप आने से यह समस्या दूर हो गई. बुधवार को इसे चरणबद्ध तरीके से प्रदेश के सभी जिलों के सभी केंद्रों पर इसे पहुंचा दिया जाएगा, जिससे कि पुनः टीकाकरण की व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित हो सके. सरकार का पहला उद्देश्य है लोगों के स्वस्थ रखना। लोगों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखकर टीकाकरण कराया जा रहा है. टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी होने से कोविड-19 तीसरी लहर से बचा जा सकेगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें