निकाय चुनाव : निर्दलीयों की मदद से बोर्ड बनाने की जुगत में भाजपा-कांग्रेस

Smart News Team, Last updated: 15/12/2020 02:19 PM IST
  • पहले दिन भाजपा और कांग्रेस सहित निर्दलीय प्रत्याशियों ने अध्यक्ष के लिए नामांकन भरने से दूरी बनाए रखी. भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां निर्दलीय उम्मीदवारों का समर्थन जुटाने में लगी है. इसके बाद ही उनकी ओर से अध्यक्ष उम्मीदवार के नाम का ऐलान किया जाएगा.
सांकेतिक फोटो

जयपुर. प्रदेश में 12 जिलो की 43 नगर पालिका और 7 नगर परिषद में अध्यक्ष के चुनाव  के लिए सोमवार को लोकसूचना जारी होने के साथ ही नामांकन दाखिल करने की प्रक्रिया शुरू हो गई. पहले दिन भाजपा और कांग्रेस सहित निर्दलीय प्रत्याशियों ने अध्यक्ष के लिए नामांकन भरने से दूरी बनाए रखी. भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां निर्दलीय उम्मीदवारों का समर्थन जुटाने में लगी है.इसके बाद ही उनकी ओर से अध्यक्ष उम्मीदवार के नाम का ऐलान किया जाएगा.

गौरतलब है कि किसान आंदोलन के बीच प्रदेश के 12 जिलों की 43 नगर पालिकाओं एवं 7 नगर परिषदों के लिए 11 दिसंबर को चुनाव हुए थे. इस चुनाव के परिणाम में भाजपा का सूफड़ा साफ हो गया. इनमें से 4 में भाजपा को बहुमत मिला जबकि कांग्रेस 15 निकायों में ही बहुत मिल सका है. जबकि 31 निकाय ऐसे हैं, जहां पर अध्यक्ष बनाने की कमान निर्दलीयों के हाथ में है. इसलिए भाजपा और कांग्रेस दोनों ही पार्टियां निर्दलीयों को साधकर अपना अध्यक्ष बनाने के प्रयास में जुटी हुई है. यही वजह रही कि पहले दिन कुल 50 नगरीय निकायों में से सिर्फ 5 निकायों में ही अध्यक्ष पद के लिए एक-एक नामांकन दाखिल हुआ. राज्य निर्वाचन आयोग से मिली जानकारी के अनुसार, अलवर की तिजारा नगर पालिका, जयपुर कोटपूतली नगरपालिका, करौली में हिंडौन नगर परिषद, करौली में टोडाभीम नगर पालिका के साथ ही भरतपुर में बयाना नगर पालिका में अध्यक्ष के चुनाव के लिए पांच नामांकन दाखिल किए गए.

राजस्थान में वासवा की बीटीपी और ओवैसी की एआईएमआईएम के बीच गठबंधन की चर्चा

 पालिका अध्यक्ष के लिए नामांकन पत्र दाखिल करने की प्रक्रिया सोमवार को अधिसूचना जारी होने के बाद से शुरू हो गई जो 15 दिसंबर अपराह्न 3 बजे तक प्रस्तुत किए जा सकते हैं. नामांकन पत्रों की संवीक्षा की तिथि 16 दिसंबर को होगी, जबकि 17 दिसंबर को अपराह्न 3 बजे तक अभ्यर्थिता वापस ली जा सकेगी. चुनाव चिन्हों का आवंटन 17 दिसंबर को नाम वापसी के समय की समाप्ति के तुरंत बाद किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें