REET Exam 2021: नकल गिरोह पर बड़ी कार्रवाई, जिला शिक्षा अधिकारी समेत 13 कर्मचारी सस्पेंड, FIR दर्ज

Shubham Bajpai, Last updated: Wed, 29th Sep 2021, 6:35 AM IST
  • राजस्थान शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) के दौरान एग्जाम में नकल के आरोप में शामिल होने के आरोप में सवाई माधोपुर के जिला शिक्षा अधिकारी समेत 13 शिक्षा विभाग के कर्मचारियों को निलंबित किया है. इसकी जानकारी शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ट्वीट कर दी.
नकल गिरोह पर बड़ी कार्रवाई, जिला शिक्षा अधिकारी समेत 13 कर्मचारी निलंबित

जयपुर. प्रदेश में शिक्षा विभाग द्वारा आयोजित राजस्थान शिक्षक पात्रता परीक्षा (रीट) के दौरान विभाग के कई अधिकारी व कर्मचारियों की भूमिका संदिग्ध पाई गई. जिसके चलते शिक्षा विभाग ने बड़ी कार्रवाई करते हुए सवाई माधोपुर के जिला शिक्षा अधिकारी राधेश्याम मीणा समेत 13 अधिकारियों को तत्काल निलंबित कर सेवा कार्य से मुक्त कर दिया. इस कार्रवाई की जानकारी प्रदेश के शिक्षा मंत्री राधेश्याम मीणा ने ट्वीट कर दी. उन्होंने कहा कि यदि इन अधिकारियों पर लगे आरोप सत्य सिद्ध हो जाते हैं तो इनको बर्खास्त किया जाएगा.

सवाई माधोपुर जिला शिक्षा अधिकारी पर गिरी गाज

शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने ट्वीट किया कि रीट परीक्षा में नकल पर पहला एक्शन लेते हुए जिला शिक्षा अधिकारी सवाई माधोपुर राधेश्याम मीणा को निलंबित किया गया गै. यदि आगे पुलिस की जांच में दोष सिद्ध हो गए तो इनकी सरकारी सेवा से बर्खास्तगी होगी.

REET 2021: शिक्षा मंत्री डोटासरा ने दी जानकारी, इस दिन आएगा रीट 2021 परीक्षा का रिजल्ट

13 कर्मियों की भूमिका संदिग्ध, निलंबित

शिक्षा मंत्री ने आगे बताया कि रीट परीक्षा में अब तक प्राप्त जानकारी के आधार पर शिक्षा विभाग के 13 कर्मचारियों की संदिग्ध भूमिका की सूचना मिली थी जिस पर ऐक्शन लेते हुए सभी 13 कर्मचारियों को निलम्बित कर दिया गया है. अब आगे पुलिस जाँच रिपोर्ट में दोष सिद्ध होने के उपरांत इनकी सरकारी सेवा से बर्खास्तगी होगी.

इंदिरा गांधी नहर से 10 साल में मिले 1822 शव, राजस्थान HC का गहलोत सरकार को नोटि

बता दें कि 31000 पदों के लिए 16.51 लाख उम्मीदवारों ने करीब 26 लाख आवेदन किए थे. 26 सितंबर को आयोजित इस परीक्षा में नकल गिरोह की आशंका के चलते सख्ती के साथ परीक्षा का आयोजन किया गया है. जिसमें कई सेंटर्स में नकल करने व कराने की कई घटना सामने आने के बाद जांच की गई. जिसमें संदिग्ध भूमिका वाले अधिकारियों को निलंबित कर दिया. वहीं, इस मामले में सख्ती दिखाते हुए कई अधिकारियों को निलंबित किया गया है. जिसमें एक जिला शिक्षा अधिकारी, एक शारीरिक शिक्षा व्याख्याता, एक कनिष्ठ सहायक समेत 10 शिक्षकों का निलंबन किया गया है, ये सभी कर्मी सिरोही, जालौर, बाड़मेर, नागौर, डूंगरपुर, राजसमंद, भरतपुर और बूंदी में तैनात थे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें