REET पेपर लीक: राजस्थान SOG ने तीन और लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी

Komal Sultaniya, Last updated: Tue, 1st Feb 2022, 9:14 PM IST
  • राजस्थान के बहुचर्चित रीट पेपर लीक मामले में एसओजी जांच कर रही है. एसओजी ने बाड़मेर से एक प्रतिष्ठित ठेकेदार सहित दो-तीन लोगों को हिरासत में लेने की बात सामने आ रही है. एसओजी की एक टीम बीते तीन-चार दिन बाड़मेर में रीट परीक्षा से संबंधित लोगों से पूछताछ कर रही है.
REET पेपर लीक: राजस्थान SOG ने तीन और लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी

राजस्थान के बहुचर्चित रीट पेपर लीक मामले के तार अब सीमावर्ती बाड़मेर जिले से भी जुड़ गए हैं. मामले की जांच कर रही एसओजी ने बाड़मेर से एक ठेकेदार सहित तीन लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है. बताया जा रहा हे कि, ठेकेदार कई शिक्षण संस्थाएं संचालित करता है और एसओजी की जांच के दौरान पेपर लीक प्रकरण में उसकी संलिप्तता सामने आई है, जिसके बाद उसे और कुछ और लोगों को हिरासत में लिया गया है. 

गौरतलब है कि रीट पेपर लीक मामले की जांच कर रही एसओजी ने बीते गुरुवार को यह खुलासा किया था कि रीट का पेपर परीक्षा से एक दिन पहले ही लीक हो गया था. इतना ही नहीं, एसओजी ने यह भी दावा किया कि पेपर शिक्षा संकुल के स्ट्रांगरूम सें ही चोरी हुआ था. 

REET पेपर लीक मामले की CBI जांच को लेकर राजस्थान भाजपा में दरार

दरअसल, एसओजी की जांच में साबित हो चुका है कि REET में पेपर लीक हुआ था. ये भर्ती शुरू से ही विवादों में रही. एग्जाम से एक दिन पहले ही बोर्ड के स्ट्रॉन्ग रूम से पेपर लीक हो गया था. एग्जाम वाले दिन भी नकल के अलग-अलग तरह के तरीके सामने आए. नकल के लिए एक चप्पल में डिवाइस तक फिट कर दिया गया. अब एसओजी लगातार बाड़मेर शहर, सेड़वा, धोरीमन्ना, जालोर के सांचौर क्षेत्र में घूम में रही है. बाड़मेर व जालोर से दो-तीन लोगों को हिरासत में लाने की बात सामने आ रही है. 

REET-2021 पेपर लीक मास्टरमाइंड अरेस्ट, SOG ने पकड़ा, 4 महीने से था फरार

बताते चले कि, बाड़मेर पुलिस ने एग्जाम के ठीक एक दिन पहले नकल गिरोह का पर्दाफाश किया. दो सरकारी शिक्षकों सुरेश और रमेश विश्नोई को गिरफ़्तार करने के साथ 20 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया था. पुलिस का दावा था कि आरोपियों ने परीक्षा से 4 घंटे पहले अपनी एक्सपर्ट टीम से पेपर हल करवाकर आंसर की डमी कैंडिडेट को देकर एग्जाम सेंटर भेजने की तैयारी कर रखी थी. इस गिरोह में सांचोर ट्रैफिक पुलिस का कॉन्स्टेबल भी शामिल था. जो छुट्‌टी लेकर डमी कैंडिडेट बनकर बैठने के लिए गया था. 

SOG ने किया REET Exam लीक का खुलासा, शिक्षा संकुल से ही हुआ रीट का पेपर आउट

जानकारी के मुताबिक रीट पेपर बेचने को लेकर बाड़मेर से रुपयों का लेन-देन हुआ है. इस संबंध में एसओजी एडीजी अशोक राठौड़ से जानकारी लेनी चाहिए तो उन्होंने थोड़ी देर बात बताते है. हालांकि इस बात की एसओजी ने अभी तक पुष्टि नहीं की है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें