कीलों से छेद डाले पैर, पीठ पर बरसाई बेल्ट, RTI एक्टिविस्ट को अधरमा कर भागे शराब माफिया

Atul Gupta, Last updated: Thu, 23rd Dec 2021, 3:57 PM IST
  • राजस्थान में शराब माफियाओं की शिकायत करने वाले RTI एक्टिविस्ट अमराराम गोदारा का कुछ लोगों ने अपहरण कर लिया और फिर उसके पैरों में कीलें ठोक दी. यही नहीं उसकी जानवरों की तरह पिटाई की गई और अधमरी हालत में फेंक दिया गया.
राजस्थान में RTI एक्टिविस्ट के साथ मारपीट (सांकेतिक फोटो)

जयपुर: राजस्थान में शराब माफिया के खिलाफ लगातार आवाज उठा रहे आरटीआई एक्टिविस्ट अमराराम गोदारा के साथ तस्करों ने जानवरों से भी बुरा सुलूक किया. दिल दहला देने वाली ये घटना राजस्थान के बारमेड़ की है जहां अमराराम का शराब माफियाओं ने अपहरण किया. उसके बाद उन्हें बुरी तरह टॉर्चर किया गया. उनके पैरों में कीलें ठोक दी गईं. कई जगहों पर सरिया घुसाया गया, बेल्ट से बुरी तरह पीटा गया. अपराधियों का तब भी मन नहीं भरा तो उन्हें पेशाब पिलाई गई और बीच सड़क पर मरने के लिए फेंक दिया गया. 

अधरमी हालत में अमराराम गोदारा को अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनकी हालत चिंताजनक बनी हुई है. पुलिस के के मुताबिक हाल ही में अमराराम गोदारा ने नकली शराब बनाने वाले गिरोह के खिलाफ पुलिस में शिकायद दर्ज करवाई थी. इसी बात से नाराज होकर शराब माफियाओं ने अमराराम गोदारा का ये हाल कर दिया. अमराराम गोदारा की तरफ से उनके साथी ने पुलिस में शिकायत तर्ज करवाई है जिसपर संज्ञान लेते हुए राज्य मानवाधिकार आयोग ने डीजीपी समेत दूसरे अधिकारियों से मामले पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है.

अपनी शिकायत में अमराराम गोदारा ने कहा है 6 अज्ञात लोगों ने उनका अपहरण किया और उनके साथ मारपीट की. उन्होंने ये भी कहा कि शराब माफियाओं की शिकायत करने पर सोशल मीडिया पर उन्हें लगातार जान से मारने की धमकियां मिल रही थी. पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया है और उनसे पूछताछ जारी है. स्थानीय लोगों का भी यही कहना है कि गैरकानूनी तौर पर शराब बनाने वालों ने अमराराम गोदारा का ये हाल किया है.

पुलिस के मुताबिक मंगलवार रात अमराराम गोदारा को गंभीर हालत में अस्पताल लाया गया था जहां से उसे जोधपुर रेफर कर दिया गया. बारमेड़ एसपी दीपक भार्गव के मुताबिक अमराराम गोदारा की मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा कि उन्हें कि उन्हें किस हद तक गंभीर पहुंचाई गई है. उन्होंने शराब माफियाओं की शिकायत की थी जिसके बाद पुलिस ने एक्शन लेते हुए कई जगहों से गैरकानूनी शराब जब्त की थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें