राजस्थान के चिकित्सा मंत्री में जारी की संविदा सीएचओ भर्ती-2020 की चयन सूची

Smart News Team, Last updated: Sun, 9th May 2021, 7:29 PM IST
राजस्थान के चिकित्सा मंत्री के द्वारा संविदा सीएचओ भर्ती-2020 की चयन सूची जारी कर दी गई. इनमें चयनित 7 हजार 353 सीएचओ को ग्रामीण क्षेत्रों में लगाया जाएगा.कोरोना के कारण चिकित्सा कर्मियों की आवश्यकता को देखते हुए इन्हें तत्काल फील्ड में भेजा जा रहा है.
राजस्थान के चिकित्सा मंत्री के द्वारा संविदा सीएचओ भर्ती-2020 की चयन सूची जारी कर दी गई

जयपुर. राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा द्वारा रविवार सुबह अपने आवास से राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशालय द्वारा संविदा सीएचओ भर्ती-2020 की चयन सूची जारी कर दी गई. मंत्री ने कहा कि वर्तमान में वैश्विक महामारी कोरोना का प्रकोप ग्रामीण क्षेत्रों में भी फैल रहा है. ऐसे में 7 हजार 353 चयनित सीएचओ को ग्रामीण क्षेत्रों में लगाया जाएगा.

चिकित्सा मंत्री ने बताया कि संविदा सीएचओ भर्ती -2020 के लिए 7810 पदों की विज्ञप्ति जारी की गई थी. स्क्रीनिंग परीक्षा के बाद दस्तावेज सत्यापन के आधार पर 7353 पदों की चयन सूची जारी की जा रही है. उन्होंने यह भी कहा कि कतिपय श्रेणी के 457 शेष पदों पर दस्तावेज सत्यापन प्रक्रियाधीन होने के कारण इनका परिणाम बाद में जारी किया जाएगा. उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते विशेषकर ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना नियंत्रण के लिए इन अभ्यर्थियों को फील्ड में लगाया जा रहा है.

CM गहलोत का आदेश, कोरोना रोकथाम के लिए गांवों में हेल्थ मशीनरी पूरी तरह एक्टिव रहे

इसके अलावा डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि ये संविदा सीएचओ चयनित अभ्यर्थी मूल रूप से प्रशिक्षित नर्सिंग कर्मी और आयुर्वेद चिकित्सक हैं. कोरोना के कारण चिकित्सा कर्मियों की आवश्यकता को देखते हुए इन्हें तत्काल फील्ड में भेजा जा रहा है. उन्होंने कहा कि सभी चयनित अभ्यर्थी आगामी 3 दिनों में आवश्यक रूप से अपनी ड्यूटी पर उपस्थिति देंगे. फील्ड में लगाए जाने से पूर्व संयुक्त निदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवाएं, क्षेत्रीय कायार्लय स्तर पर इन सभी का एक दिन का आमुखीकरण करवाया गया. अब कोरोना के एक्टिव केसेज के के अनुसार इन्हें जिलों में नियोजित किया जा रहा है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि इनके द्वारा सीएचसी पर कोविड काउंसिलिंग कार्य और डोर टू डोर सर्वे आदि कार्य किए जाएंगे. प्रदेश के समस्त जिलों में कोरोना के एक्टिव केसेज की संख्या के आधार पर कार्य करने के लिए इनकी सेवाएं इनके गृह जिले या इनके पास के जिलों के जिला कलेक्टर को सौंपी गई हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें