जयपुर में परिवार कल्याण प्रशिक्षण केंद्र पर सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ी धज्जियां

Smart News Team, Last updated: Fri, 14th May 2021, 3:59 PM IST
  • स्वास्थ्य विभाग सीएचओ भर्ती में चयनितों के डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कर रही है. जयपुर में एक साथ बड़ी संख्या में अभ्यर्थी आने पर सोशल डिस्टेंसिंग  की धज्जियां उड़ती दिखाई दी.
प्रतिकात्मक तस्वीर 

जयपुर. राजधानी में आज सीएचओ भर्ती के चयनितों के डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन हो रहे हैं. चिकित्सा विभाग कोविड प्रोटोकॉल के पालन करने की अपील करता है. लेकिन, विभागीय भर्ती में ही कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन होता नजर आया. दरअसल, हिराबाग स्थित स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण प्रशिक्षण केंद्र चयनितों को बुलाया गया था. यहां पर दस्तावेज सत्यापन और अन्य औपचारिकताएं पूरी होनी थी. लेकिन, सुबह ही बड़ी संख्या में अभ्यर्थी और उनके परिजन भी हीराबाग स्थित कार्यालय पहुंच गए. इससे कोरोना प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ती दिखाई दी. विभाग की ओर से समुचित व्यवस्था ना होने के कारण उत्पन्न हालातों से अभ्यर्थी भी काफी परेशान नजर आए. कई महिला अभ्यर्थियों के साथ उनके छोटे बच्चे भी थे.

 

बता दें कि कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर को काबू करने के लिए राजस्थान सरकार ने कोरोना गाइडलाइन की पालना करवाने के लिए जमीन-आसमान एक कर रखा है. लेकिन स्वास्थ्य विभाग के कार्यालय में ही गाइडलाइन की पालना नहीं होती दिखाई दी.गौरतलब है कि संविदा सीएचओ भर्ती -2020 के लिए 7810 पदों की विज्ञप्ति जारी की गई थी. स्क्रीनिंग परीक्षा के बाद दस्तावेज सत्यापन के आधार पर 7353 पदों की चयन सूची जारी की जा रही है. 457 शेष पदों पर दस्तावेज सत्यापन प्रक्रियाधीन होने के कारण इनका परिणाम बाद में जारी किया जाएगा. कोविड महामारी के चलते विशेषत: ग्रामीण क्षेत्रों में कोरोना नियन्त्रण के लिए इन अभ्यर्थियों को फील्ड में लगाया जाएगा.

जयपुर: एसएमएस अस्पताल में 16 मई से मिलेगी कोरोना मरीजों को राहत

बता दें कि जहां प्रशासन आम लोगों द्वारा नियमों के पालन नहीं करने पर सख्ती से उनके चालान काट रही है, उन्हें क्वॉरेंटाइन कर रहा है. लेकिन जब खुद जिम्मेदार ही नियमों को तोड़ें तो उनके खिलाफ कौन कार्रवाई करेगा? गौरतलब है कि तीन दिन पहले सीएचओ की अंतिम सूची जारी हुई थी. जिसके लिए शुक्रवार को डॉक्यूमेंट्स वेरिफिकेशन के लिए बुलाया गया था. वेरिफिकेशन के अंतिम दिन कल है. इसलिए वेरिफिकेशन का समय कम मिलने के कारण भीड़ एक साथ उमड़ रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें