जयपुर में भी दिख सकता है तौकते तूफान का असर, बिजली विभाग की हुई अहम बैठक

Smart News Team, Last updated: Sat, 15th May 2021, 8:32 PM IST
  • तौकते के खतरे को देखते हुए जिन राज्यों में इसका प्रभाव हो सकता है वहां पर सरकार और प्रशासन अलर्ट मोड पर है. प्रदेश में भी आज बिजली महकमे ने बैठक की और व्यवस्थाओं पर चर्चा की. इस बैठक में जयपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक नवीन अरोड़ा भी मौजूद रहे.
प्रतिकात्मक तस्वीर 

जयपुर. संभावित तूफान तौकते का प्रभाव राजस्थान में भी देखा जा सकता है. ऐसे में इस तूफान से होने वाले नुकसान को देखते हुए विभागों में बैठकों का दौर शुरु हो चुका है. प्रदेश के प्रमुख ऊर्जा सचिव दिनेश कुमार ने आज तीनों डिस्कॉम एवं प्रसारण निगमों के अधिकारियों की बैठक ली. इस बैठक में जयपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक नवीन अरोड़ा, जोधपुर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक अविनाश सिंघवी और अजमेर डिस्कॉम के प्रबंध निदेशक वी.एस भाटी, निदेशक तकनीकी, संभागीय मुख्य अभियंता (डिस्काम्स व प्रसारण) तथा अधीक्षण अभियन्ता वितरण आदि मौजूद रहे.

 

वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से प्रमुख शासन सचिव ऊर्जा ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा है सभी वितरण निगमों, संभागों एवं सर्किल स्तर पर 24 घंटे कार्यरत रहने वाले कंट्रोल रूम की स्थापना की जाएगी. जिसमें राउंड द क्लॉक कनिष्ठ अभियंता ड्यूटी देंगे. साथ ही चीफ इंजीनियर मैटीरियल मैनेजमेंट जरूरी सामान जैसे ट्रांसफ़ॉर्मर, पोल, कंडक्टर आदि पर्याप्त मात्रा में मौजूद हो यह सुनिश्चित करेंगे. उन्होंने सभी वितरण निगमों के अधिकारियों को अपने हैडक्वाटर पर इमरजेंसी टीम को वाहन व ज़रूरी सामान और उपकरण के साथ 24 घंटे तैयार रखने के निर्देश दिए है. यह टीम संबंधित सहायक अभियंता (ओ एंड एम) और अधिशाषी अभियन्ता (ओ एंड एम) के निर्देशन में काम करेंगे. अधिशाषी अभियंता अपने क्षेत्र के 132 ओर 220 केवी जीएसएस के नोडल अफसर होंगे और संबंधित प्रसारण निगम के अधिकारी से सामंजस्य रखेंगे. साथ ही प्रसारण निगम की आपातकालीन टीम संभाग स्तर पर गठित की जाएगी.

जयपुर में कोरोना का कहर कुछ थमा, आज पॉजिटिव से ज्यादा रिकवर हुए मरीज

बैठक में अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि यदि इस तूफ़ान से कोई एरिया प्रभावित होता है तो सबसे पहले उस एरिया में स्थित कोविड अस्पताल और ऑक्सीजन प्लांट की सप्लाई को प्राथमिकता पर सबसे पहले सुचारु रूप से चालू किया जाएगा. उसके बाद अन्य एरिया व आम उपभोक्ता की सप्लाई को चालू किया जाएगा. इस दौरान सभी उपभोक्ताओं से यह अपेक्षा की गई है कि यदि उनकी सप्लाई में कुछ विलंब हो रहा है तो वो इस महामारी को देखते हुए डिस्कॉम कर्मचारियों को अपना सहयोग दें.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें