CM गहलोत ने की लोगों से अनुशासन में रहकर दिवाली मनाने की अपील, दिशा-निर्देश जारी

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 07:08 PM IST
  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेशवासियों से इस वर्ष दीपावली का त्योहार अनुशासन में रहकर मनाने का आग्रह किया है. इसके साथ ही उन्होंने पटाखों को लेकर भी दिशा-निर्देश जारी किये हैं.
मुख्यमंत्री गहलोत ने की लोगों से अनुशासन में रहकर दिवाली मनाने की अपील

जयपुर. कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप के कारण राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रदेशवासियों से इस वर्ष दीपावली का त्योहार अनुशासन में रहकर मनाने का आग्रह किया है. मुख्यमंत्री गहलोत ने विशेषज्ञ चिकित्सकों की सलाह के आधार पर प्रदेशवासियों से अपील की है वे कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए इस वर्ष दीपावली का त्योहार स्व-अनुशासन में रहकर मनाएं. इसके साथ ही गहलोत ने जनता से पटाखे न जलाने का भी अनुरोध किया है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रदेश में कोरोना संक्रमण की स्थिति पर विशेषज्ञ चिकित्सकों के साथ गहन विचार-विमर्श किया. कोरोना वायरस को देखते हुए बैठक में सभी विशेषज्ञों ने राय दी कि पटाखों से होने वाला धुआं और प्रदूषण आमजन के साथ-साथ कोरोना संक्रमित रोगियों तथा कोरोना से ठीक हुए व्यक्तियों के लिए विशेष रूप से घातक है.

पुजारी हत्याकांड: कांग्रेस पर भड़की BJP, सूबे के लोगों से माफी मांगे राहुल गांधी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बैठक में कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का भी हवाला दिया. उन्होंने कह कि कई बार आतिशबाजी से होने वाले प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए दिशा-निर्देश जारी किए हैं. एक सरकारी बयान के मुताबिक उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शामिल प्रदेश के जिलों में पहले से ही पटाखों के उपयोग पर प्रतिबंध है. राजस्थान राज्य मानवाधिकार आयोग ने पटाखों के उपयोग को प्रतिबंधित करने को लेकर दिशा-निर्देश भी दिए हैं.

बता दें कि राजस्थान में भी कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. खासकर जयपुर, जोधपुर और बीकानेर में कोरोना के सबसे ज्यादा मामले देखने को मिले.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें