जन्माष्टमी पर इन खूबसूरत और ट्रेंडिंग डिजाइन से सजाएं अपनी हथेली, देखें फोटो

Anuradha Raj, Last updated: Sun, 29th Aug 2021, 9:05 PM IST
  • जन्माष्टमी का त्योहार 30 अगस्त को मनाया जाएगा. ऐसी मान्यता है कि भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष तिथि और रोहिणी नक्षत्र में भगवान श्री कृष्ण का जन्म हुआ था. इस दिन कान्हा जी के बाल स्वरूप की पूजा की जाती है.
मेहंदी डिजाइन

जन्माष्टमी की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं, चारों तरफ बहुत ही रौनक देखने को मिल रही है. 30 अगस्त यानी सोमवार को इस बार जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाएगा. ऐसी मान्यता है कि श्री कृष्ण का इसी दिन जन्म हुआ था. श्री कृष्ण भगवान विष्णु के आठवें अवतार माने जाते हैं, तो वहीं देवकी की आठवीं संतान जिसने कंस के कारागार में जन्म लिया था. मथुरा में भी जन्माष्टमी की तैयारी हो चुकी है. अब जब जन्माष्टमी का त्योहार करीब आ चुका है, तो ऐसे में मेहंदी को कैसे भूल सकते हैं.  भारत के कई हिस्सों में जन्माष्टमी के दिन मेहंदी लगाने का प्रचलन है. 

दरअसल कुछ जगहों पर सबसे पहले श्री कृष्ण को मेहंदी लगाई जाती है, उसके बाद महिलाएं अपनी हथेली मेहंदी से सजाती हैं. बेहद ही शुभ माना जाता है इस दिन मेहंदी लगाना. ऐसे में इस साल जन्माष्टमी पर आप अपने हाथों में ये खूबसूरत मेहंदी की डिजाइन लगा सकते हैं, या आर्टिस्ट से लगवा सकते हैं. महेंदी के कई तरह के डिजाइन उपलब्ध है. जैसे कुछ लड़कियां और महिलाएं हाथ में भरी-भरी मेहंदी लगवाना पसंद करती हैं. 

जन्माष्टमी की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं, चारों तरफ बहुत ही रौनक देखने को मिल रही है. 30 अगस्त यानी सोमवार को इस बार जन्माष्टमी का पर्व मनाया जाएगा. ऐसी मान्यता है कि श्री कृष्ण का इसी दिन जन्म हुआ था. श्री कृष्ण भगवान विष्णु के आठवें अवतार माने जाते हैं, तो वहीं देवकी की आठवीं संतान जिसने कंस के कारागार में जन्म लिया था. मथुरा में भी जन्माष्टमी की तैयारी हो चुकी है. अब जब जन्माष्टमी का त्योहार करीब आ चुका है, तो ऐसे में मेहंदी को कैसे भूल सकते हैं.  भारत के कई हिस्सों में जन्माष्टमी के दिन मेहंदी लगाने का प्रचलन है. 

दरअसल कुछ जगहों पर सबसे पहले श्री कृष्ण को मेहंदी लगाई जाती है, उसके बाद महिलाएं अपनी हथेली मेहंदी से सजाती हैं. बेहद ही शुभ माना जाता है इस दिन मेहंदी लगाना. ऐसे में इस साल जन्माष्टमी पर आप अपने हाथों में ये खूबसूरत मेहंदी की डिजाइन लगा सकते हैं, या आर्टिस्ट से लगवा सकते हैं. महेंदी के कई तरह के डिजाइन उपलब्ध है. जैसे कुछ लड़कियां और महिलाएं हाथ में भरी-भरी मेहंदी लगवाना पसंद करती हैं. 

|#+|

जन्माष्टमी पर पढ़ना ना भूलें ये कृष्ण चालीसा, बाल गोपाल का मिलेगा आशीर्वाद

वैसे तो इस तरह की मेहंदी शादी में लगाई जाती है. लेकिन आपको पसंद है तो जन्माष्टमी पर भी लगा सकते हैं. अरेबिक मेहंदी भी लड़कियों की पसंद बन चुकी है. इसे हाथ भरा-भरा तो नहीं दिखता, लेकिन इस तरह के डिजाइन लगाने के बाद बहुत ही खूबसूरत लगते हैं. कुछ महिलाएं टैटू मेहंदी लगाना भी पसंद करती हैं, तो वो जन्माष्टमी पर इस तरह की मेहंदी भी लगा सकते हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें