जयपुर में कचरे से बनेगी बिजली, लांगडियावास में शुरू होगा प्लांट का निर्माण

Smart News Team, Last updated: 02/09/2020 03:48 PM IST
  • जयपुर.लांगडियाबास में 20 हेक्टेयर जमीन पर 182 करोड़ की लागत से प्लांट का निर्माण शुरू कराया जाएगा. 700 टन कचरे से 12 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है. हुई मीटिंग में कंपनी के साथ मिलकर लीज डीड तैयार करने का निर्णय लिया गया है.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

जयपुर में नगर निगम के अधिकारियों की एक बैठक हुई. जिसमें सहमति बनी कि कचरे से बिजली उत्पादन का प्रोजेक्ट शीघ्र शुरू किया जाए. शहर में प्रतिदिन 14 सौ टन कचरा एकत्रित किया जा रहा है. शुरुआती दौर में 700 टन कचरे से 12 मेगावाट बिजली उत्पादन का लक्ष्य निर्धारित किया गया है.

लांगडियाबास में 20 हेक्टेयर जमीन पर 182 करोड़ की लागत से प्लांट का निर्माण शुरू कराया जाएगा. नगर निगम के अधिकारियों का कहना है कि वेस्ट टू एनर्जी प्लांट का काम जल्दी शुरू होगा. वर्ष 2017 में जिंदल कंपनी को इस कार्य का टेंडर दिया गया था लेकिन शर्तों में विवाद के चलते कंपनी में ने इस प्रोजेक्ट को लेकर आनाकानी की थी और कार्य शुरू नहीं किया था.

राज्य सरकार की दखल के बाद निगम ने इसमें तेजी दिखाई और अब यह प्रोजेक्ट दोबारा से शुरू होने जा रहा है. हुई मीटिंग में कंपनी के साथ मिलकर लीज डीड तैयार करने का निर्णय लिया गया है. कंपनी के अधिकारियों ने बताया प्रतिदिन 700 टन कचरा कंपनी को बिजली उत्पादन करने के लिए देना होगा. प्लांट 20 हेक्टेयर में लगाया जाएगा. जिससे प्रतिदिन 12 मेगा वाट बिजली उत्पन्न होगी. इसके लिए सरकार की ओर से कंपनी को सात रुपए प्रति यूनिट भुगतान किए जायेगे.

इस संबंध में नगर निगम के अधिशासी अधिकारी बने सिंह ने बताया की कंपनी भी अब काम करने को तैयार है. शर्तों का अब कोई मामला नहीं रह गया है. मीटिंग के बाद सारे मामलों का निस्तारण हो गया है. जल्द ही काम शुरू करा दिया जाएगा.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें