राजस्थान में पत्रकारों पर मेहरबान गहलोत सरकार सस्ते दरों पर होंगे भूखंड आवंटित

Smart News Team, Last updated: 13/09/2020 05:25 PM IST
  • मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पत्रकारों को रियायती दरों पर भूखंड आवंटित किए जाने की बात कही है. उन्होंने इस राशि को बढ़ाकर दो लाख करने का निर्णय लिया है. 
मुख्यमंत्री अशोक गहलोत

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के समय पत्रकारों के ऊपर नजरें इनायत किए हुए हैं. उन्होंने पत्रकारों को रियायती दरों पर भूखंड आवंटित किए जाने की बात कही है. उन्होंने कहा कि पत्रकारों के लिए आवासीय योजना पर काम जारी है. साथ-साथ मेडिकल डायरी तथा आर्थिक सहायता भी पत्रकार कल्याण की योजनाओं का विस्तार करने के साथ होगी.

मुख्यमंत्री ने अपने आवास से राजस्थान संवाद की साधारण सभा और सूचना एवं जनसंपर्क विभाग की समीक्षा कर रहे थे. इस बीच उन्होंने कहा कि सरकार ने पत्रकार कल्याण कोष का गठन कर उनके लिए मेडिक्लेम बीमा, निशुल्क बस यात्रा, मेडिकल डायरी, पत्रकार सम्मान पेंशन योजना तथा आर्थिक सहायता जैसी योजनाएं शुरू की हैं. कहा कि एफडीआर से प्राप्त ब्याज से संचालित मेडिकल डायरी योजना का लाभ संवैतनिक गैर अधिस्वीकृत पत्रकारों को भी देने के लिए योजना बनाए जाने के निर्देश दिए हैं.

जयपुर में योगा मास्टर निकला नशे का कारोबारी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

उन्होंने कहा पत्रकार और उनके परिवारों के लिए छह गंभीर बीमारियों की स्थिति में एक लाख रुपये तक की आर्थिक सहायता को किसी भी गंभीर बीमारी के लिए दिए जाते थे मगर उन्होंने इस राशि को बढ़ाकर दो लाख करने का निर्णय लिया है. उन्होंने वरिष्ठ अधिस्वीकृत पत्रकार सम्मान योजना की प्रति माह राशि पाच हजार से बढ़ाकर 10 हज़ार किए जाने का भी फैसला लिया है. उन्होंने बताया कि न्यायिक विवाद के कारण नाइला आवासी योजना का विकल्प तलाशने और 2002 में प्रारंभ की गई नीति के तहत पत्रकारों के लिए आवासी योजना पर काम जारी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें