हो जाएं सतर्क, डाकघर के बचत खाते में 500 रुपए से कम रखने पर भरना होगा जुर्माना

Smart News Team, Last updated: 03/12/2020 05:40 PM IST
  • जयपुर के डाकघरों से जुड़े दो लाख उपभोक्ताओं में से 40 हजार से अधिक बचत खाता धारक हैं. डाकघरों में जहां पहले 50 रुपए मिनिमम बैलेंस की लिमिट थी अब उसे बढ़ाकर 500 रुपए कर दिया गया है. वहीं अगर खाते में मिनिमम बैलेंस नहीं रखा जाता है तो जुर्माना लिया जाएगा.
जयपुर में गवर्नमेंट हॉस्टल के पास स्थित जीपीओ 

जयपुर. राजस्थान में डाकघर में बचत खाता रखने वाले लोगों के लिए यह बड़ी खबर है. डाकघर के बचत खाते से संबंधित नियमों में बदलाव होने जा रहा है. डाकघर में खाता रखने वाले उपभोक्ताओं को अब नेटबैंकिग की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी. राजस्थान में डाकघर का बचत खाता 50 रुपए की बजाय 500 रुपए मिनिमम बैलेंस से खोला जाएगा. इसके साथ ही पुराने बचत खातों में भी 500 रुपए का मिनिमम बैलेंस रखना होगा. 

डाक विभाग ने 12 दिसंबर से कम से कम राशि के इस प्रावधान को अनिवार्य कर दिया है. इससे कम राशि यदि बचत खाते में होती है तो उस पर 100 रुपए सालाना रखरखाव शुल्क के रूप में जुर्माना लगेगा. साथ ही यदि अकाउंट में राशि शून्य हुई तो आपका खाता भी बंद हो सकता है. वहीं,  अब डाकघर ने भी नेटबैंकिंग की सुविधा भी दी है.  

VIDEO: शादी में अनूठी सोशल डिस्टेंसिंग, लाठी से दूल्हा-दुल्हन पहना रहे वरमाला

ऐसे में अब बचत खाता धारक बैंकों की तरह डाकघर के खाते पर भी नेटबैंकिंग की सुविधा ले सकते हैं. बता दें कि जयपुर के डाकघरों से जुड़े दो लाख उपभोक्ताओं में से 40 हजार से अधिक बचत खाता धारक हैं. 

दुल्हन बनीं दो बहनों ने सुहागरात पर ससुराल को लूटा, दूल्हों को डबल झटका

पिछले महीनों से डाक विभाग अभियान चलाकर इस संबंध में जानकारी दे रहा है. नई अनिवार्यता के अनुसार खातों की छंटनी भी की जा रही है. बता दें कि अब आवर्ती जमा खाता 100 रुपए, फिक्स्ड डिपॉजिट 1000 रुपए सहित किसान विकास पत्र एवं राष्ट्रीय बचत पत्र में भी 1000 रुपए का निवेश करना अनिवार्य होगा. 

पति ने होटल में रेड मारकर आशिक संग रंगरेलियां मनाती बीवी को रंगे हाथ पकड़ा

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें