जयपुर: शोकेस से बाहर आयी 2400 साल पुरानी 'ममी'

Smart News Team, Last updated: 18/08/2020 08:40 PM IST
  • जयपुर के अल्बर्ट हॉल म्यूजियम में 4 फीट तक भरा पानी, 2400 साल पुरानी ममी भी डूबते-डूबते बची , ममी तक पानी पहुंचने में बचा था सिर्फ 4 से 5 इंच का फासला, 130 साल पहले काहिरा से लाई गई थी. तूतू नाम की महिला की है ये ममी.
अल्बर्ट हॉल म्यूजियम

गुलाबी नगरी जयपुर में 14 अगस्त को हुई मूसलाधार बारिश से शहर को काफी नुकसान हुआ है. बारिश के बाद अब तबाही की तस्वीरें सामने आने लगी है. भारी बारिश से पहली बार जयपुर के अल्बर्ट हॉल म्यूजियम में 4 फीट तक पानी भर गया. इससे म्यूजियम के बेसमेंट की गैलरी में रखी 2400 साल पुरानी ममी भी डूबते-डूबते बच गई. बारिश का पानी ममी के 4 फीट ऊंचे बॉक्स तक पहुंच गया. गनीमत यह रही कि इसे समय रहते निकालकर सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया गया.

ममी तक पानी पहुंचने में सिर्फ बचा था सिर्फ 4 से 5 इंच का फासला

अल्बर्ट हॉल के अधीक्षक डॉ. राकेश छोलक के अनुसार, बारिश का पानी ममी तक पहुंचने में सिर्फ 4 से 5 इंच का फासला ही बचा था. ऐसे में समय रहते कांच तोड़कर ममी को सुरक्षित निकाल लिया गया. अगर 5 मिनट की भी और देरी हो जाती तो ये ऐतिहासिक ममी डूब जाती और इसकी भरपाई करना मुश्किल हो जाता.

130 साल पहले काहिरा से लाई गई थी

इस ममी को 130 साल पहले मिस्र के काहिरा से लाया गया था. जिसके बाद यह अल्बर्ट हॉल में ही थी. यह पहली बार था, जब ममी को बक्से से बाहर जमीन पर रखना पड़ा. अप्रैल 2017 में इस ममी को अलबर्ट हॉल के बेसमेंट में शिफ्ट किया गया था. इसके साथ ही यहां इसका इतिहास, जन्म-मृत्यु का संबंध, ममी बनाने का तरीका और इस ममी का एक्स-रे लोगों के सामने रखा गया था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें