जयपुर:बीजेपी के 45 विधायकों से गहलोत कैम्प के सम्पर्क साधने की चर्चा

Smart News Team, Last updated: 10/08/2020 02:49 PM IST
  • राजस्थान में चल रहे कांग्रेस सरकार में सियासी संग्राम के बाद भाजपा नेता डरे सहमें नजर आ रहे हैं. भाजपा नेताओं ने आशंका जताई है कि मुख्यमंत्री गहलोत कैम्प ने भाजपा के करीब 45 विधायकों से सम्पर्क किया है.
अशोक गहलोत

राजस्थान में एक ओर कांग्रेस सरकार में गहलोत-पायलट के बीच पिछले कई महीनों से सियासी संग्राम छिड़ा हुआ है. कांग्रेस के स्टार नेता माने जाने वाले पूर्व उपमुख्यमंत्री पायलट पार्टी के दो दर्जन से ज्यादा विधायकों के साथ कई महीनों में अज्ञात वास पर हैं. जिसके चलते कांग्रेस की गहलोत सरकार अधर में लटकी हुई है.

एक ओर मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायकों की जैसलमेर में बाड़ेबंदी कर रखी हैं वहीं दूसरी ओर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतिश पूनिया मुख्यमंत्री गहलोत के साथ कांग्रेस नेताओं पर आरोप लगाया है कि गहलोत कैम्प के द्वारा उनकी पार्टी के विधायकों से सम्पर्क साधा जा रहा है और उन्हें पुराने केसों में फंसाने की धमकियां दी जारी हैं. बीजेपी को डर है कि सीएम गहलोत उनके विधायकों को प्रभावित कर सकते हैं. जिसके बाद भाजपा ने विधायकों की बाड़ेबंदी शुरू कर दी है. फिलहाल 23 विधायकों को गुजरात भेजा गया है, जहां पोरबंदर सहित अलग-अलग जगह इनकों रखा गया है.राजस्थान में एक ओर कांग्रेस सरकार में गहलोत-पायलट के बीच पिछले कई महीनों से सियासी संग्राम छिड़ा हुआ है. कांग्रेस के स्टार नेता माने जाने वाले पूर्व उपमुख्यमंत्री पायलट पार्टी के दो दर्जन से ज्यादा विधायकों के साथ कई महीनों में अज्ञात वास पर हैं. जिसके चलते कांग्रेस की गहलोत सरकार अधर में लटकी हुई है.

एक ओर मुख्यमंत्री गहलोत ने विधायकों की जैसलमेर में बाड़ेबंदी कर रखी हैं वहीं दूसरी ओर भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सतिश पूनिया मुख्यमंत्री गहलोत के साथ कांग्रेस नेताओं पर आरोप लगाया है कि गहलोत कैम्प के द्वारा उनकी पार्टी के विधायकों से सम्पर्क साधा जा रहा है और उन्हें पुराने केसों में फंसाने की धमकियां दी जारी हैं. बीजेपी को डर है कि सीएम गहलोत उनके विधायकों को प्रभावित कर सकते हैं. जिसके बाद भाजपा ने विधायकों की बाड़ेबंदी शुरू कर दी है. फिलहाल 23 विधायकों को गुजरात भेजा गया है, जहां पोरबंदर सहित अलग-अलग जगह इनकों रखा गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें