बारिश के कारण जयपुर के गलता क्षेत्र की घरों में जमा मिट्टी जल्द निकाली जाएगी

Smart News Team, Last updated: 26/08/2020 03:03 PM IST
  • 14 अगस्त को जयपुर में हुई तेज बारिश से नुकसान का आकलन करने में जुटा है जिला प्रशासन, गलता क्षेत्र के गलियों, घरों व सीवर में जमा है मिट्टी
Jaipur: A vehicle lies buried on landslide debris following heavy rainfall, in Jaipur, Friday, Aug. 21, 2020. (PTI Photo)(PTI21-08-2020_000121B)

जयपुर : 14 अगस्त को शहर में हुई भारी बारिश के कारण गलता क्षेत्र की गलियों, घरों व सीवर में 4 से 6 फुट तक मिट्टी जमा हो गई है. बारिश से सबसे ज्यादा प्रभावित गलता क्षेत्र के मुख्य मार्ग पर जमा मिट्टी को हटाने के बाद अब घरों, गलियों व सीवर चैंबर से मिट्टी हटाई जाएगी. इस क्षेत्र के घरों में 3 फीट से ज्यादा मिट्टी जमी हुई है. निगम अधिकारियों का कहना है कि क्षेत्र में मिट्टी हटाने के बाद सुपर सकर मशीनों से लाइनों को साफ किया जाएगा.

क्षेत्र के जिन घरों में नुकसान हुआ है उन लोगों में गुस्सा है कि उन्हें प्रशासन ने अब तक कोई आर्थिक सहायता नहीं दी है. वहीं, लोगों के ऑटो, ई-रिक्शा, लोडिंग टेंपो को हुए नुकसान की भरपाई के लिए अभी तक इंश्योरेंस कंपनियों के प्रतिनिधि नहीं पहुंचे हैं. नगर निगम हैरीटेज के सीईओ लोक बंधु का कहना है कि मुख्य सड़कों से मिट्टी हटाने के बाद अब घरों और गलियों से मिट्टी हटाने का काम शुरू किया जाएगा. एक सप्ताह में काम पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. जिला प्रशासन की छह टीमें 14 अगस्त को हुई बरसात से नुकसान का आकलन करने में जुटी है. अब तक 4 करोड़ रुपए से अधिक का नुकसान माना जा रहा है. नुकसान का आकलन करने में स्थानीय क्षेत्र के पटवारियों के साथ आपदा प्रबंधन के अधिकारी व स्वयं सेवकों की भी सहायता ली जा रही है.

तेज बरसात के कारण हुई 5 मृतकों को कलेक्टर की ओर से आर्थिक सहायता जारी कर दी गई है. सबसे अधिक नुकसान गलता गेट क्षेत्र के आसपास की कॉलोनियों को हुआ. क्षेत्र में 90 घर क्षतिग्रस्त हो गए। साथ ही करीब 400 से ज्यादा घरों में 3 से 4 सीट मिट्टी जमा है. डीएम साउथ शंकर लाल सैनी का कहना है कि आपदा से हुए नुकसान के आकलन में टीमें लगी हुई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें