जयपुर: पहले दिन ही जेईई मेंस परीक्षा में हुई चूक , संक्रमित छात्र को लौटाया घर

Smart News Team, Last updated: 02/09/2020 12:15 PM IST
  • जयपुर के कोटा में बने परीक्षा केंद्र पर कोरोना पॉजिटिव छात्र जेईई मेन की परीक्षा देने सेंटर पहुंचा. उसे लौटाया गया वापस. इसके बाद जारी की गई संक्रमित छात्रों के लिए सर्कुलेशन.
जेईई मेंस परीक्षा

कोरोना काल में विरोध के बावजूद हो रही जेईई मेन की परीक्षा में पहले ही दिन बड़ी चूक सामने आई है. जयपुर के कोटा में बने परीक्षा केंद्र पर एक ऐसा मामला सामने आया, जहां कोरोना पॉजिटिव छात्र जेईई मेन की परीक्षा देने सेंटर पहुंचा. उस छात्र को यह कहकर वापस लौटा दिया गया कि उसकी परीक्षा बाद में होगी. हालांकि एनटीए के तरफ से जारी की गई एडवाजरी या एडमिट कार्ड में कहीं भी इसका जिक्र नहीं था कि पाॅजिटिव छात्रों का केंद्र पर आना आवश्यक नहीं है.

इस घटना के बाद अब परीक्षा केंद्रों पर यह जानकारी भेजी जा रही है कि कोरोना संक्रमित छात्रों का आना आवश्यक नहीं है. वे एडमिट कार्ड के साथ पॉजिटिव रिपोर्ट केंद्र पर भेज सकते हैं. वहीं कई छात्र अन्य शहरों से पहुंच रहे हैं, ऐसे में इस चूक से न सिर्फ संक्रमित छात्रों को समस्या हुई बल्कि दूसराें के लिए भी संक्रमण का खतरा पैदा हो गया. इस चूंक से छात्रों के साथ साथ अभिवावकों, केंद्र के व्यवस्थापकों सहित अन्य लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ा है.

वहीं कुछ अभिवावकों का कहना है कि जब परीक्षा के लिए सभी तैयारियां पूरी हो गयी थीं तो इस पहलू पर क्यों नहीं सोचा गया. इस दौरान छात्रों के साथ परीक्षा से जुड़े तमाम लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा है.

हालांकि एनटीए ने एडमिट कार्ड डाउनलोड करते समय ही डिक्लेरेशन फाॅर्म भरवाया था. अगर तभी एनटीए को कोरोना ग्रसित छात्रों का पॉजिटिव रिपोर्ट मांग कर उन्हें नई तारीख आवंटित कर दी गई होती या फिर परीक्षा शुरू होने के बाद जो सर्कुलेशन जारी किया जा रहा है. वह पहले ही कर दिया गया होता तो ऐसी नौबत नहीं आती.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें