जयपुर: कोरोना समीक्षा के दौरान बोले सीएम, जयपुर में बढ़ाए जाएंगे एक हजार बेड

Smart News Team, Last updated: Tue, 22nd Sep 2020, 4:54 PM IST
  • जयपुर. सीएम विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि संक्रमण के मामलों को बढ़ने से रोका जाए और स्वास्थ्य सेवाएं दुरुस्त रखी जाए. जयपुर में ऑक्सीजन, आईसीयू और वेंटिलेटर के एक हज़ार अतिरिक्त बढ़ाए जाएं.
प्रतीकात्मक तस्वीर 

जयपुर| सोमवार की देर रात राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना की स्थिति और रोकथाम की समीक्षा की. इस दौरान उन्होंने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए कि संक्रमण के मामलों को बढ़ने से रोका जाए और स्वास्थ्य सेवाएं दुरुस्त रखी जाए. उन्होंने कहा कि आक्सीजन युक्त, आईसीयू और वेंटिलेटर युक्त बेडों की संख्या बढ़ाई जाए. राज्य सरकार संसाधनों का बेहतर प्रबंधन कर प्रदेश में कोरोना संक्रमण को रोकने में कोई भी कमी नहीं रखेगी.

सीएम ने कहा कि जोधपुर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर और अजमेर संभागीय मुख्यालयों पर लोग उपचार के लिए आते हैं. इसलिए वहां चिकित्सा व्यवस्था को मजबूत करने के साथ ही जयपुर में प्राथमिकता दी जाए. जयपुर में ऑक्सीजन, आईसीयू और वेंटिलेटर के एक हज़ार अतिरिक्त बढ़ाए जाएं.

बैठक के दौरान चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अखिल अरोड़ा ने बताया लगातार प्रयासों के चलते मृत्यु दर को नियंत्रण में कर लिया गया है. प्रदेश में सितंबर माह में मृत्यु दर 0.9% कम रही. अगस्त माह में यह 1% से कम थी. वर्तमान में राजस्थान में कोरोना से औसत मृत्यु 1.16% है जो कि राष्ट्रीय औसत जैसे बड़े राज्यों से काफी कम है. बताया रिकवरी की दर 83% है जो अन्य राज्यों से बहुत ही बेहतर है.

जयपुर: अब कोरोना वैक्सीन के नाम पर भी हो रही साइबर ठगी

उन्होंने बताया कि कोविड-19 से संक्रमित जिन मरीजों को बेड की आवश्यकता है. उनकी मदद के लिए मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 181 शुरू कर दी गई है. गहलोत सरकार ने इस व्यवस्था को चौबीसों घंटे चाक-चौबंद रखने के साथ ही हेल्पलाइन और होम आइसोलेशन मरीज को चिकित्सीय परामर्श उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए हैं. बताया कि पहले दिन 17 रोगियों ने मुख्यमंत्री हेल्पलाइन पर संपर्क कर मदद मांगी थी. जिनको वरिष्ठ अधिकारियों ने तत्काल सहायता उपलब्ध कराई.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें