जयपुर: श्रद्धापूर्वक मनाई गई लोक देवता तेजाजी व रामदेव बाबा की जयंती

Smart News Team, Last updated: 29/08/2020 10:26 AM IST
  • लोक देवता तेजाजी व रामदेव बाबा की जयंती पर नहीं लगे हर वर्ष की भांति मेले श्रद्धालुओं ने तेजाजी के थान व मंदिरों में जाकर प्रसाद चढ़ाया और सुख-समृद्धि की कामना की कोरोना के चलते इस बार न तो तेजाजी की बिंदौरी निकली और न ही तेजाजी के थानों पर लगे मेले
प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर। लोक देवता वीर तेजाजी व बाबा रामदेव महाराज की जयंती शुक्रवार को हर्षोल्लास के साथ मनाया गया. इस दौरान श्रद्धालुओं ने सरकार द्वारा जारी की गई गाइडलाइंस का पालन करते हुए जयंती मनाया. लोग एक दूसरे से दूर-दूर मास्क पहने नजर आए. श्रद्धालुओं ने तेजाजी के थान व मंदिरों में जाकर प्रसाद चढ़ाया और सुख-समृद्धि की कामना की.

शहर और गांवों में तेजाजी के थानों पर लगने वाले मेलों पर इस बार कोरोना का असर दिखाई दिया. कोरोना के कारण इस बार न तो तेजाजी की बिंदौरी निकली और न ही तेजाजी के थानों पर मेले लगे. कोरोना के चलते इस बार मेला लगने वाले स्थान पर सन्नाटा पसरा रहा.हालांकि श्रद्धालु दर्शनार्थी प्रसाद चढ़ाने आए जरूर. लेकिन इस दौरान श्रद्धालुओं को एकत्र नहीं होने दिया गया. दर्शन करते हुए भी श्रद्धालुओं के बीच दो मीटर की दूरी देखने को मिली. दर्शन के तुरंत बाद ही परिसर से श्रद्धालुओं को बाहर कर दिया गया जिससे की भीड़ इकट्ठी ना हो.

दर्शन करते समय भी लोगों को मास्क लगाए जाने का निर्देश दिया गया था. इस दौरान सभी श्रद्धालु अनिवार्य रूप से मास्क लगाए हुए नजर आए.तेजाजी के दर्शन करने के साथ ज्योत ली गयी और घरों में बनाए पकवान खीर, पूड़ी, पुआ, नारियल, पताशे आदि चढ़ाए गए. इस दौरान श्रद्धालुओं ने सालभर जहरीले जीव जंतुओं से रक्षा करने की प्रार्थना की. कई लोगों ने घरों पर ही ज्योत ली और खीर, पुए व पुड़ी का भोग लगाया.

हाथोज ग्राम में सादगीपूर्वक तेजाजी का मेला लगा रहा. तेजा दशमी की पूर्व संध्या पर हाथोज धाम के स्वामी बालमुकुंदाचार्य महाराज के सान्निध्य में तेजाजी का अभिषेक करने के बाद अखंड ज्योत प्रज्ज्वलित कर आरती की गई.बड़ी संख्या में दर्शनार्थी प्रसाद चढ़ाने के लिए पहुंचे. ऐसी मान्यता है कि तेजाजी के थान पर गाय-भैस का दूध चढ़ाने से तेजाजी प्रसन्न होकर कष्टों को दूर करते हैं.

इधर मानसरोवर न्यू सांगानेर रोड पर करीब 400 वर्ष पुराने तेजाजी मंदिर, बरकत नगर, गोनेर रोड, मुरलीपुरा ,हसनपुरा, सोडाला, मानसरोवर, बाढ़ देवरी, मुहाना, सांगानेर सांगासेतू रोड, बंबाला पुलिया, आदर्शनगर, शास्त्रीनगर सहित अन्य जगहों पर भी तेजाजी जयंती भक्तिभाव के साथ मनाई गई.वहीं दूसरी ओर लोक देवता रामदेवजी की जयंती भी धूमधाम से मनाई गई. रामदेवजी के मंदिरों में विशेष सजावट की गई. नाहरी का नाका स्थित बाबा रामदेव मंदिर में महंत योगेश नायक के सान्निध्य में अभिषेक कर मनोहरी सृंगार किया गया.

बाबा को दाल,बाटी चूरमा का भोग लगाया गया. मंदिरों में विशेष झांकिया सजाई गई. भक्तों ने मंदिरों में प्रसाद चढ़ाया.इस दौरान श्रद्धालुओं ने विशेष पूजा अर्चना कर कुल देवता से आशीर्वाद लागा साथ ग्रहण करने के बाद लोग अपने घरों की ओर प्रस्थान किए.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें