जयपुर: सतर्क हुआ जेडीए, अतिक्रमण और अवैध निर्माण पर कार्रवाई का बनाया लक्ष्य

Smart News Team, Last updated: 11/10/2020 03:02 PM IST
  • जयपुर में जेडीए सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण और अवैध निर्माण को लेकर सतर्क नजर आ रहा है. इसके खिलाफ प्रभावी रूप से कार्रवाई करने के लिए जेडीए ने इसे तीन श्रेणियों में भी बांटा है, जिसमें अतिक्रमण, व्यावसायिक कॉम्प्लेक्सों के निर्माण और निजी आवासों में होने वाले अवैध निर्माण पर कार्रवाई की जाएगी.
राजधानी में अवैध निर्माण और अतिक्रमणों को जेडीए ने तीन श्रेणियों में बांटा है

जयपुर में जेडीए सरकारी जमीनों पर हो रहे अवैध निर्माणों और अतिक्रमणों को मुक्त कराने की कोशिश में लगा हुआ है. इसे लेकर राजधानी में अवैध निर्माण और अतिक्रमणों को जेडीए ने तीन श्रेणियों में बांटा है. इसमें सरकारी जमीन पर हो रहा अतिक्रमण पहली श्रेणी में है. व्यावसायिक कॉम्प्लेक्सों का अवैध निर्माण दूसरी श्रेणी में और निजी आवासों में नियम विरुद्ध निर्माण को तीसरी श्रेणी में शामिल किया गया है. इस मामले को लेकर जेडीए आयुक्त गौरव गोयल ने प्रवर्तन शाखा के अधिरकारियों की बैठक में उन्हें भवन विनियम के विरुद्ध अवैध निर्माण और अतिक्रमण के खिलाफ प्रभावी कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं.

अवैध निर्माण और अतिक्रमण पर कार्रवाई करने के लिए प्राथमिकताएं भी अधिकारियों को बता दी गई हैं. जेडीसी गौरव गोयल ने प्रथम श्रेणी में सरकारी भूमि पर अतिक्रमण के खिलाफ जीरो टोलरेंस के साथ कार्रवाई करने के आदेश दिये हैं. उन्हें अतिक्रमण हटाने, भूमि पर तारबंदी और बाउंड्रीवाल के लिए टेंडर जारी करने के भी निर्देश दिये हैं. यह सभी काम भूमाफियाओं से बचने के लिए भी किए जा रहे हैं.

जयपुर: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे छात्रों को जनवरी में मिलेगा ये तोहफा

दूसरी श्रेणी में अधिकारी ने व्यावसायिक कॉम्प्लेक्सों में समूचित पार्किंग, 60/40 की अनुपात में भवन निर्माण, फायर फाइटिंग, लाइटिंग अरेस्टर आदि के निर्माण का पालन कराने के निर्देश दिये हैं. अगर व्यावसायिक कॉम्प्लेक्सों में इनका निर्माण नहीं होता तो जेडीए उसपर कार्रवाई भी कर सकता है.

तीसरी श्रेणी में निजी आवासों के अवैध निर्माण को शामिल किया गया है. इसमें नियम के खिलाफ आवासों में किये जाने वाले निर्माण को रोकने का आदेश दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें