नाहरगढ़ जैविक उद्यान में शेर 'कैलाश' की मौत, PM रिपोर्ट में मौत का हुआ खुलासा

Smart News Team, Last updated: 19/10/2020 09:33 PM IST
  • जयपुर के नाहरगढ़ जैविक उद्यान की लॉयन सफारी में एक शेर की मौत हो गई. चार वर्ष के शेर की पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया है कि उसकी मौत का कारण दिल का दौरा है. वहीं शेर के शरीर के कुछ नमूने जांच के लिए बरेली भेजे गए हैं, जिसकी रिपोर्ट आनी बाकी है.
जयपुर के नाहरगढ़ जैविक उद्यान की लॉयन सफारी में एक शेर की रविवार को मौत हो गई

जयपुर.जयपुर के नाहरगढ़ जैविक उद्यान की लॉयन सफारी में एक शेर की रविवार को मौत हो गई. शेर की उम्र करीब चार साल बताई जा रही है. जयपुर चिड़ियाघर के उपवन संरक्षक उपकार बोराना ने बताया कि शनिवार शाम भोजन के बाद शेर ने उल्टी की थी. रातभर पशु चिकित्सक ने उसका उपचार किया और देखभाल भी की. लेकिन बावजूद इसके कैलाश नाम के शेर की बीते रविवार को सुबह मौत हो गई. वहीं, शव के पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह सामने आया है कि उसकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई है.

ATM में कैश डालने आई वैन के साथ लूटपाट, 26.5 लाख रुपये लेकर फरार हुए बदमाश

जयपुर चिड़ियाघर के उपवन संरक्षक उपकार बोराना ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि शेर की मौत के बाद पशु चिकित्सकों के एक मेडिकल बोर्ड ने कैलाश का पोस्टमार्टम किया. बोर्ड की प्रारंभिक रिपोर्ट में सामने आया कि शेर की मौत का कारण दिल का दौरा है. वहीं, शेर की मौत के असल कारणों को जानने के लिए उसके अंगों का नमूना लिया गया, जिसे जांच के लिए बरेली स्थित भारतीय पशुचिकित्सा अनुसंधान संस्थान भेजा गया है.

बता दें कि इससे पहले भी जयपुर के नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क में एक सफेद बाघ 'राजा' की मौत हो गई थी. बताया जा रहा है कि बाघ पिछले एक हफ्ते से बीमार चल रहा था और एक अगस्त को अचानक उसकी ज्यादा तबीयत बिगड़ गई. बाघ की ज्यादा तबीयत बिगड़ने पर उसके खून के नमूने इंडियन वेटनरी रिसर्च इंस्टीट्यूट बरेली जांच के लिए भेजे गए थे. इस बारे में बात करते हुए नाहरगढ़ बायोलॉजिकल पार्क के अतिरिक्त वन्यजीव अधिकारी जगदीश गुप्ता ने बताया कि बाघ के पेशाब से खून आना शुरू हो गया था. उसे आईवीआरआई के वैज्ञानिकों की सलाह पर दवाइयां भी दी गईं, लेकिन किडनी की बीमारी से वह उबर नहीं पाया, जिससे उसने दम तोड़ दिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें