कोरोना के कारण मंदिर के गेट पर लगा ताला, लोगों को भेजा गया वापस

Smart News Team, Last updated: 12/08/2020 05:19 PM IST
  • कोरोना के कारण जन्माष्टमी पर्व भी फीका पड़ गया है. जयपुर के गोविंद देव जी के मंदिर में जो लोग दर्शन के लिए जा रहे हैं, उन्हे वापिस भेजा जा रहा है. मंदिर में एंट्री की सभी जगहों को बैरिकेड्स लगाकर बंद कर दिया गया है. जिन व्यापारियों ने दुकानें खोली उन्हे भी पुलिस प्रशासन द्वारा बंद करवा दिया गया है.
गोविंद देव जी के मंदिर

जयपुर - कोरोना संक्रमण ने त्यौहारों को मनाने का तरीका ही बदल दिया है. आज पूरे देश में जन्माष्टमी का पर्व मनाया जा रहा है. लेकिन कोरोना के कारण लोगो में ड़र बैठा हुआ है. कोरोना के चलते बाजारों में रौनक फीकी है. वहीं जयपुर के गोविंद देव जी मंदिर में विधि विधान के साथ भगवान की पूजा अर्चना की जा रही है. लेकिन कोरोना के चलते जो भक्त मंदिर पहुंचे उन्हें पुलिस ने वापस भेज दिया है. जिन व्यापारियों ने दुकानें खोलीं तो उन्हे भी बंद करवा दिया गया है.

आपको बता दें कि जयपुर के गोविंद देव जी के बाहर हर साल जन्माष्टमी पर मेला लगा रहता था. दूर दूर से लोग दर्शन के लिए आते हैं. मंदिर के बाहर दुकानदारों ने बताया कि हम साल भर इसी समय का इंतजार करते हैं. लेकिन इस बार कोरोना के कारण यहाँ कुछ भी नहीं है. पहली बार ही ऐसा कुछ देख रहे हैं, पुलिस दुकान भी बंद करवा रही हैं. जो लोग मंदिर आ रहे हैं, उन्हें वापस भेजा जा रहा है. लोग अपने-अपने घरों में जन्मोत्सव मना रहे हैं. वही लोग बाजारों में आ रहे हैं और अपनी जरूरत के हिसाब से सामान की खरीदारी कर रहे हैं.

वहीं बड़ी चौपड़ पर निर्भया स्क्वॉड टीम ने जन्माष्टमी के पर्व पर जयपुर वासियों को कोरोना से बचाव के लिए जागरूकता का संदेश दिया है. राधा-कृष्ण के अवतार में कलाकारों द्वारा घर में ही रहने और नियमों का पालन करने का संदेश दिया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें