Lunar Eclipse: चंद्र ग्रहण के दौरान आज गर्भवती महिलाएं बरतें सावधानी, इन 10 नियमों का करें पालन

Pallawi Kumari, Last updated: Fri, 19th Nov 2021, 12:05 PM IST
  • 19 नवंबर को आज साल का आखिरी चंद्र ग्रहण लग चुका है. ग्रहण के दौरान गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है. क्योंकि इसका असर बच्चे पर पड़ता है. आइये आपको बताते हैं वो 10 नियम जिनका आपको ग्रहण काल के दौरान करना चाहिए.
गर्भवती महिलाएं ग्रहण में रखें इन बातों का ध्यान..

आज शुक्रवार को साल का आखिरी चंद्र ग्रहण 12.48 बजे शुरू होगा. जिसकी समाप्ति शाम 4.47 बजे होगी. वहीं ग्रहण का मध्यकाल दोपहर बाद 2:34 बजे रहेगा. हालांकि भारत में ये चंद्र ग्रहण का उपछाया होगा. इसलिए इसमें सूतक काल मान्य नही होती. क्योंकि इसे कुछ जगहों पर आंशिक देखा जाएगा. लेकिन एक मां को अपने बच्चे की चिंता गर्भवती होने के समय से ही रहती है. इसलिए वह हमेशा ही इस बात का खास ख्याल रखती है कि उसके बच्चे को कभी कोई परेशानी नहीं हो. इसलिए हर ग्रहण में गर्भवती महिलाओं को इन नियमों का पालन जरूर करना चाहिए.

चूंकि आज का चंद्र ग्रहण भारत में आंशिक होगा और उपछाया होगा. इसलिए कुछ ज्योतिषचार्यों के मुताबिक ग्रहण काल में विशेष सावधानियां बरतने की आवश्यकता नहीं होगी. लेकिन घर के बुजुर्ग और जानकारों के अनुसार आप चंद्र ग्रहण में ग्रहण काल का पालन कर सकती हैं.

Lunar Eclipse: इन राशियों को मालामाल करेगा साल का आखिरी चंद्र ग्रहण, आर्थिक समस्याएं होंगी दूर

गर्भवती महिलाएं चंद्र ग्रहण में इन 10 नियमों का करें पालन

1. किसी भी नुकीली चीज जैसे चाकू, कैंची, सूई आदि का इस्तेमाल ग्रहम के दौरान न करें.

2. ग्रहण में आप घर के काम कर सकती हैं लेकिन सब्जी काटना. सिलाई करना जैसे काम न करें.

3 ग्रहण में कुछ न खाएं. लेकिन आज का चंद्र ग्रहण सदी का सबसे लंबा आंशिक चंद्र ग्रहण है, जिसकी अवधि भी लंबी है. इसलिए आप जूस या पानी वगैरह पी सकती है.

4. ग्रहण काल में आपको जो भी खाने पीने की जरूरत हो उसे ग्रहण से पहले तैयार करें उसमें तुलसी का पत्ता डाल दें.

5. गर्भवती महिलाओं को ग्रहण काल में भगवान का ध्यान करना चाहिए और हनुमान चालीसा का पाठ करना चाहिए.

6. गर्भवती महिलाएं आज चंद्र ग्रहण में एक नारियल अपने पास रखें. इससे ग्रहण का बुरा असर बच्चे पर नहीं पड़ता.

7. ग्रहण के दौरान घर पर ही रहे. क्योंकि कहा जाता है कि ग्रहण की छाया गर्भ में पल रहे बच्चे पर बुरा प्रभाव डालती है.

8. लेकिन अगर आपको किसी जरूरी काम से बाहर जाने की जरूरत पड़े तो आप गर्भ पर चंदन और तुलसी के पत्तों का लेप लगा लें. इससे ग्रहण का प्रभाव बच्चे पर नहीं होगा.

9. ग्रहण खत्म होने के बाद स्नान जरूर करें.

10. स्नान के बाद पूजा करें और दान करें.

Lunar Eclipse of 2021 : हर साल क्यों लगते हैं ग्रहण, 19 नवंबर को लगने वाला चंद्र ग्रहण क्यों है खास

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें