राजस्थान में 5 साल से नहीं हुई SET परीक्षा, शिक्षक नियुक्ति के लिए है महत्वपूर्ण

Smart News Team, Last updated: 08/12/2020 11:06 PM IST
  • पिछले पांच साल से प्रदेश में राज्य पात्रता परीक्षा (सेट) नहीं हुई है. इस परीक्षा का साल में एक बार आयोजन किया जाता रहा है. 29 विषयों के लिए राज्य पात्रता परीक्षा का आयोजन राजस्थान लोक सेवा आयोग करवाता रहा है. आयोग ने अंतिम बार वर्ष 2015 में सेट परीक्षा कराई थी.
सांकेतिक फोटो

जयपुर. राजस्थान के कॉलेज-यूनिवर्सिटी में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए आयोजित की जाने वाली राज्य पात्रता परीक्षा (सेट) को सरकार ने शायद भुला दिया है. पिछले पांच साल से प्रदेश में सेट परीक्षा नहीं हुई है. इस परीक्षा का साल में एक बार आयोजन किया जाता है. 29 विषयों के लिए राज्य पात्रता परीक्षा राजस्थान लोक सेवा आयोग आयोजित करवाता रहा है. आयोग ने अंतिम बार वर्ष 2015 में सेट परीक्षा कराई थी. इसके बाद पांच साल से परीक्षा का आयोजन नहीं हुआ है.

गौरतलब है कि राज्य पात्रता परीक्षा को लेकर आयोग के पूर्व अध्यक्ष डॉ. ललित के पंवार ने सरकार को पत्र लिखा था. आयोग ने सरकार को पत्र लिख कहा था कि आरपीएससी के पास भर्ती परीक्षाओं का अधिक दबाव है, इसलिए सेट परीक्षा को अन्य एजेंसियों के माध्यम से करवाया जाए. इसके बाद से यह परीक्षा बंद हो गई. इसके बाद से सरकार ने न तो आरपीएससी को यह परीक्षा आयोजित करवाने के लिए कहा और न ही किसी विश्वविद्यालय, राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड या पृथक एजेंसी को परीक्षा की जिम्मेदारी सौंपी गई. 

भारत बंद LIVE : जयपुर में कांग्रेस और भाजपा कार्यकर्ताओं में जमकर हाथापाई

स्टूडेंट्स की नेट परीक्षा में बढ़ी रुचि : मानव संसाधन विकास मंत्रालय और यूजीसी ने कॉलेज और यूनिवर्सिटी में सहायक आचार्य की नियुक्ति के लिए राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा (नेट) जरूरी किया है. लिहाजा अभ्यर्थियों की नेट परीक्षा देने में रुचि ज्यादा बढ़ी है. हालांकि नेट उत्तीर्ण करने के बाद भी विद्यार्थियों को संबंधित राज्यों की पात्रता परीक्षा या विषयवार सीधी भर्ती परीक्षा देनी पड़ती है. इसमें उत्तीर्ण होने के बाद ही वे कॉलेज-यूनिवर्सिटी के शिक्षक बनते हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें