आज है कृष्ण जन्माष्टमी, सरकार ने कहा सोशल डिस्टेंस का रखें ध्यान

Smart News Team, Last updated: 12/08/2020 09:04 AM IST
  • जयपुर में कोरोना के चलते जन्माष्टमी का पर्व सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मनाया जायेगा. गाइडलाइन की पालना करते हुए जयपुर के प्रमुख मंदिरों में जाने से रोक है. कुछ मंदिरों में होंगे ऑनलाइन दर्शन
जन्माष्टमी 

जयपुर. आज श्री कृष्ण जन्माष्टमी है. हालांकि, जयपुर में अभी तक का मंदिर खुले नहीं होने के कारण आज भक्त ठाकुर जी के दर्शन नहीं कर पाएंगे. लेकिन, जयपुर के आराध्य गोविंददेव जी मंदिर समेत कई कृष्ण मंदिरों की ओर से ऑनलाइन दर्शनों की व्यवस्था की गई है. बता दें कि कोरोना महामारी के कारण अब तक राजस्थान के केवल ग्रामीण क्षेत्रों के छोटे मंदिर भी खुले हैं, जहां 50 से ज्यादा लोग दिन में नहीं आते हैं. अन्य सभी मंदिर फिलहाल बंद है. गोविंद देव जी मंदिर में जन्माष्टमी की विशेष पूजा तय समय पर होगी.

चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ रघु शर्मा ने प्रदेशवासियों से कन्हैया के जन्म का पर्व जन्माष्टमी धूमधाम से मनाएं. लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना के प्रोटोकॉल की पालना करते हुए मनाने की अपील की है. डॉ शर्मा ने कहा जिस तरह कन्हैया ने मर्यादा में रहते हुए कंस का वध कर लोगों को अत्याचार से मुक्ति दिलाई, उसी तरह कोरोना रूपी कंस को हम सोशल डिस्टेंसिंग और सावधानियों के साथ ही हरा सकते हैं. उन्होंने कहा कि सभी प्रदेश वासी भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में ना जाकर अपने घरों में रहते हुए जन्माष्टमी पर्व उत्साह से मनाएं. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि प्रदेश में कोरोना का संक्रमण इसीलिए फैल नहीं पाया क्योंकि प्रदेश के आमजन सजग और सतर्क हैं. उन्होंने कहा कि यदि हम अपने परिवार, समाज, राज्य और राष्ट्र को कोरोना से बचाना चाहते हैं तो आम दिनों व त्योहारों के दौरान हम सभी को पूर्ण रूप से सावधानी बरतनी होगी.

राज्यपाल ने दी जन्माष्टमी पर शुभकामनाएं

राज्यपाल कलराज मिश्र ने श्री कृष्ण जन्माष्टमी पर्व पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं दी है. राज्यपाल ने कहा है कि भगवान श्री कृष्ण ने अन्याय का प्रतिकार कर शाश्वत सत्य एवं निष्काम कर्म के महत्व की स्थापना की. उन्होंने कहा कि हमें युग पुरुष श्री कृष्ण के उपदेशों से प्रेरणा लेनी चाहिए. राज्यपाल मिश्र ने कहा कि जन्माष्टमी के मौके पर अपने आस पास के ऐसे लोग जो गरीब है, जिनके पास इस कोरोना वैश्विक महामारी में खाने-पीने की व्यवस्था नही है. उन लोगों को भोजन कराये. राज्यपाल ने कहा कि हमें घर में रहकर ही पूजा पाठ करनी है. घर में पूजा पाठ के दौरान सोशल डिस्टेसिंग बनाकर रखनी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें