गलत जवाब को लेकर हजारों बेरोजगार अभ्यर्थियों में रोष, फीस वसूली का लगाया आरोप

Smart News Team, Last updated: 01/10/2020 10:27 AM IST
  • 2 साल से लाइब्रेरियन भर्ती परीक्षा को लेकर इंतजार में बैठे रहे .आंसर की में 10 से ज्यादा सवालों के जवाब गलत दिए गए है. चयन बोर्ड द्वारा जारी आंसर की में गलत जवाबों को लेकर परीक्षा देने वाले प्रदेश के हजारों अभ्यर्थियों में रोष है.
प्रात्कात्मक तस्वीर

जयपुर। प्रदेश के 55 हजार से ज्यादा बेरोजगार अभ्यर्थियों से वसूली की जा रही है. 19 सितंबर को लाइब्रेरियन भर्ती परीक्षा 2018 ग्रेड थर्ड का आयोजन किया गया था. भर्ती परीक्षा में पूछे गए डेढ़ सौ सवालों को लेकर चयन बोर्ड द्वारा आंसर की जारी की गई. आंसर की में 10 से ज्यादा सवालों के जवाब गलत दिए गए है. चयन बोर्ड द्वारा जारी आंसर की में गलत जवाबों को लेकर परीक्षा देने वाले प्रदेश के हजारों अभ्यर्थियों में रोष है. अभ्यर्थियों का कहना है कि एक तरफ 2 साल बाद परीक्षा का दूसरी बार आयोजन करवाया गया. जिसे लेकर वह लंबे समय से इंतजार में बैठे रहे. चार बार परीक्षा की तिथि बढ़ा दी गई.

वहीं अब जब परीक्षा हुई तो चयन बोर्ड द्वारा पूछे गए सवालों के आंसर की में जानबूझकर गलत जवाब दिए गए. ताकि आपत्ति के नाम पर प्रदेश के हजारों बेरोजगार अभ्यर्थियों से फीस वसूली जा सके. भर्ती परीक्षा को लेकर चयन बोर्ड ने सवाल व आंसर की में दिए गए जवाब को लेकर प्रत्येक आपत्ति पर 100 रुपए शुल्क निर्धारित किया है. यानी कोई अभ्यर्थी आंसर की के एक भी आंसर पर अगर आपत्ति दर्ज करवाना चाहेगा तो प्रत्येक आंसर की आपत्ति पर सौ रुपए भुगतान करने होंगे. ऐसे में अगर प्रदेश भर से प्रत्येक अभ्यर्थी एक से दो भी आपत्ति दर्ज करवाता है तो चयन बोर्ड के पास लाखों रुपए आएंगे.

6 महीने बाद दौड़ेगी ट्रेन, जयपुर सुपरफास्ट स्पेशल ट्रेन एक अक्टूबर से होगी रवाना

आपको बता दें कि राजस्थान चयन बोर्ड द्वारा जारी प्रेस नोट के अनुसार लाइब्रेरियन भर्ती परीक्षा के दौरान पूछे गए सवाल या बोर्ड द्वारा जारी आंसर की के आंसर को लेकर अगर किसी अभ्यर्थी को आपत्ति है. तो वह 2 अक्टूबर ऑनलाइन आपत्ति दर्ज करवा सकेगा. विभागीय वेबसाइट के माध्यम से ऑनलाइन दर्ज करवाने के लिए प्रत्येक आपत्ति पर अभ्यर्थी को 100 रुपए चुकाने होंगे.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें