जयपुर के अल्बर्ट हॉल म्यूजियम में पहुंचा बारिश का पानी

Smart News Team, Last updated: 19/08/2020 10:53 AM IST
  • गत शुक्रवार को भारी बारिश के कारण दीवारें ऊंची होने के बावजूद अचानक तेज बहाव के साथ पानी के अल्बर्ट हॉल संग्रहालय के अंडरग्राऊंड में प्रवेश कर गया. इससे कार्यालय के रिकॉर्ड को नुकसान पहुंचा है. बता दें यहां बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक पहुंचते हैं
साहित्य एवं पुरातत्व मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला अल्बर्ट हॉल का निरीक्षण करते हुए 

जयपुर. गुलाबी नगरी में चार दिन पहले हुई भारी बारिश के कारण कई जगह भारी नुकसान हुआ. ऐसे में अल्बर्ट हॉल में भी कई जगह पानी भर गया. पर्यटन स्थल पर पानी के कारण हुए नुकसान का जायजा लेने कला, साहित्य एवं पुरातत्व मंत्री डॉ. बी. डी. कल्ला पहुंचे. उन्होंने अल्बर्ट हॉल म्यूजियम के अंडरग्राऊंड में रिकॉर्ड रूम, स्टोर रूप एवं अन्य सैक्शंस के साथ गैलरीज में जाकर बारिश में भीगे रिकॉर्ड को रिकवर करने के लिए किए जा रह प्रयासों के बारे में जानकारी ली. डॉ. कल्ला को मौके पर पुरातत्व विभाग के निदेशक प्रकाश चंद शर्मा एवं संग्रहालय के अधिकारियों ने बारिश से हुए नुकसान के बाद रिकार्ड को फिर से दुरूस्त करने के लिए किए जा रहे प्रयासों की जानकारी दी.

डॉक्टर कल्ला ने मौके पर उपस्थित पुरातत्व विभाग एवं संग्रहालय के अधिकारियों को निर्देश दिए कि भविष्य में चाहे इस बार से भी अधिक वर्षा हो, लेकिन संग्रहालय में कीमती सामान, मॉन्यूमेंट्स एवं रिकार्ड को किसी प्रकार का नुकसान नहीं पहुंचे. इसके लिए आवश्यक प्रस्ताव एवं योजना तैयार कर शीघ्र कार्य शुरु करने के निर्देश दिए. उन्होंने बताया कि संग्रहालय के रिकॉर्ड को डिजिटल तरीके से सुरक्षित रखने के लिए भी कार्य किया जाएगा.

डॉ. कल्ला ने बताया कि संग्रहालय के स्टोर में जो ऐतिहासिक कलाकृतियों एवं सामग्री संरक्षित है, उनका उपयोग करते हुए भविष्य में जयपुर में एक और म्यूजियम बनाने की दिशा में कार्य किया जाएगा. इसके लिए अधिकारियों को निर्देश दिए गए है. इसके साथ ही म्यूजियम को आने वाले दिनों मे शुरु करने से पहले साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन और फ्यूमिगेशन आदि से सम्बंधित कार्यवाही करने के भी निर्देश दिए गए हैं.

बता दें कि गत शुक्रवार को भारी बारिश के कारण दीवारें ऊंची होने के बावजूद अचानक तेज बहाव के साथ पानी के संग्रहालय के अंडरग्राऊंड में प्रवेश कर गया. इससे कार्यालय के रिकॉर्ड को नुकसान पहुंचा है. तेज बारिश के समय संग्रहालय में मौजूद कर्मचारी विजिलेंट थे और उन्होंने तत्परता से ढाई हजार साल पुरानी ‘ममी‘ सहित महत्वपूर्ण सामान को सुरक्षित बचा लिया.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें