जज पर किशोर के शारीरिक शोषण का आरोप, जोधपुर हाईकोर्ट ने किया सस्पेंड

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 1st Nov 2021, 12:48 PM IST
  • जोधपुर हाईकोर्ट ने आरोपी मजिस्ट्रेट जितेंद्र गुलिया को नाबालिग बच्चे के साथ शारीरिक शोषण के आरोप में सस्पेंड कर दिया है. साथ ही बच्चे की उम्र कम होने के कारण मामला पॉक्सो एक्ट में दर्ज किया गया है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

जोधपुर. रविवार को एक महिला ने एक विशेष जज के खिलाफ अपने नाबालिग बेटे के साथ कुकर्म करने का मामला दर्ज कराया है. साथ ही इस मामले में महिला ने जज के दो कर्मचारियों के खिलाफ भी मामला दर्ज कराया है. इस बीच रविवार देर शाम जोधपुर हाईकोर्ट ने आरोपी मजिस्ट्रेट जितेंद्र गुलिया को निलंबित कर दिया. मिली जानकारी के मुताबिक, बच्चे की उम्र चौदह साल है. इस संबंध में राजस्थान सिविल सर्विस 1958 के रूल्स 13 के तहत तुरंत प्रभाव से आदेश जारी कर आरोपी मजिस्ट्रेट जितेंद्र गुलिया को निलंबित कर दिया.

रविवार को बच्चे को साथ लेकर उसकी मां मथुरा गेट थाने पहुंची. मथुरा गेट थाने में आरोपी मजिस्ट्रेट के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है. इस बाबत महिला का कहना है कि मजिस्ट्रेट बच्चे को डरा-धमका कर डेढ़ महीने से उसके साथ कुकर्म कर रहा था. लेकिन पूरे मामले का खुलासा दो दिन पहले हुआ. मिली जानकारी के मुताबिक, बच्चा शहर के कंपनी बाग स्थित डिस्ट्रिक्ट क्लब में टेनिस खेलने जाता है. उसी क्लब में भरतपुर के कई अधिकारी और भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट के विशेष न्यायाधीश जितेंद्र गुलिया भी आते थे.

राजस्थान: मंदिर की छत पर ले जाकर पुजारी ने किया रेप, महिला हुई प्रेगनेंट तो सच आया सामने

मथुरा गेट थाना अधिकारी रामनाथ गुर्जर के मुताबिक, मथुरा गेट थाना इलाके की एक महिला ने अपने बच्चे के साथ कुकर्म का मामला दर्ज करवाया है. महिला का कहना है कि उसके बच्चे के साथ सामूहिक कुकर्म हुआ है. बच्चे की उम्र कम होने के कारण मामला पॉक्सो एक्ट में दर्ज किया गया है, जिसकी जांच सीओ सिटी सतीश वर्मा कर रहे हैं. महिला ने मजिस्ट्रेट जितेंद्र गुलिया और उनके दो साथियों पर कुकर्म के आरोप लगाए हैं.

अन्य खबरें