148 करोड़ रुपए से कानपुर की सूरत बदलने वाले प्रस्ताव को नहीं मिली मंजूरी

Smart News Team, Last updated: Fri, 4th Jun 2021, 5:48 PM IST
  • कानपुर शहर की सूरत और सेहत बदलने के लिए तैयार किए गए 148 करोड़ रुपए दिए जाने के किसी भी भी प्रस्ताव को पंद्रहवें वित्त आयोग की बैठक में मंजूरी नहीं मिल पाई है. महापौर की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय कमेटी की तरफ से पहले चरण में मिली किस्त के सभी कामों पर मंजूरी दी जानी थी.
कानपुर शहर की सूरत और सेहत बदलने वाले प्रस्ताव को नहीं मिली मंजूरी

कानपुर। यूपी के स्थित कानपुर शहर की सूरत और सेहत बदलने के लिए तैयार किए गए 148 करोड़ रुपए दिए जाने के किसी भी भी प्रस्ताव को पंद्रहवें वित्त आयोग की बैठक में मंजूरी नहीं मिल पाई है. महापौर की अध्यक्षता में पांच सदस्यीय कमेटी की तरफ से पहले चरण में मिली किस्त के सभी कामों पर मंजूरी दी जानी थी. इस बैठक में महापौर प्रमिला पांडेय ने कानपुर शहर के सुधार के लिए दिए गए सभी प्रस्तावों की जांच-पड़ताल आईआईटी द्वारा कराए जाने का निर्देश दिया है. दस दिन बाद जांच की रिपोर्ट के बाद ही आयोग की बैठक बुलाई जाएगी.

बताते चलें कि कानपुर शहर की सूरत और सेहत के साथ साथ बढ़ते प्रदूषण पर रोक लगाने के लिए भी पहले चरण में 148 करोड़ रुपये से विकास कार्य कराने के लिए 15वें राज्य वित्त आयोग से पहली किस्त के रूप में सालिड वेस्ट मैनेजमेंट और प्रदूषण की रोकथाम के लिए 74-74 करोड़ रुपये शासन द्वारा जारी किए गए थे. शुक्रवार को प्रस्ताव को मंजूरी देने के लिए महापौर प्रमिला पांडेय की अध्यक्षता में गठित कमेटी की बैठक बुलाई गई थी जिसमें डीएम, केडीए उपाध्यक्ष, नगर आयुक्त और पीडब्ल्यूडी के अधीक्षण अभियंता भी शामिल थे.

यूपी बोर्ड 12वीं और 10वीं का रिजल्ट ऐसे होगा तैयार, जानें फुल डिटेल्स

कानपुर की हालत में सुधार के लिए भाऊसिंह स्थित डंपिंग ग्राउंड में 15 लाख मीट्रिक टन कूड़े के निस्तारण के लिए सालिड वेस्ट मैनेजमेंट से 22 करोड़ रुपये, इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए तीन करोड़ रुपये, कूड़ा निस्तारण प्लांट के पास मृत जानवरों के निस्तारण के लिए पांच करोड़ रुपये, बारिश के पानी को सहेजने के लिए 2.5 करोड़ रुपये, सड़कों की मरम्मत, डिवाइडर बनाने और पौधे लगाने के लिए 40 करोड़ रुपये जारी किए गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें