कानपुर में पुलिस के सामने बदमाश को भगाने वाले तीन और आरोपियों का कोर्ट में सरेंडर

Smart News Team, Last updated: Mon, 5th Jul 2021, 7:51 PM IST
  • कानपुर के नौबस्ता में एक हिस्ट्रीशीटर को भगाने के मामले में तीन अन्य आरोपियों में अदालत में अपने आपको सरेंडर कर दिया. जिसमें पूर्व भाजपा दक्षिण जिलाध्यक्ष का बेटा भी शामिल हैं. कोर्ट में सरेंडर होने के बाद तीनों को जेल भेज दिया गया.
कानपुर में पुलिस के सामने बदमाश को भगाने वाले तीन और आरोपियों का कोर्ट में सरेंडर

कानपुर. कानपुर के नौबस्ता में एक हिस्ट्रीशीटर को भागने के मामले ने तीन आरोपियों ने सोमवार को अदालत में सरेंडर कर दिया. जिसके बाद तीनो आरोपियों को कानपुर पुलिस ने गिरफ्तार करके जेल भेज दिया. सरेंडर करने वालों में पूर्व भाजपा दक्षिण जिलाध्यक्ष का बेटा भी शामिल हैं. जिसे भी अन्य आरोपियों के साथ गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया हैं. वहीं इस मामले में सेशन कोर्ट में आठ जुलाई को जमन की याचिका पर सुनवाई होगी.

जानकरी के अनुसार नौबस्ता में भाजपा नेता ने अपने जन्मदिन की पार्टी रखी थी. जिसमें हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह भी शामिल हुआ था. जिसकी जानकरी पुलिस को होते ही उसे पकड़ने के लिए वहां पर पहुंच गई. साथ ही पुलिस ने मनोज को पकड़ कर अपने जीप में भी बैठा लिया था. जीप में बौठते ही मनोज सिंह ने शोर मचा दिया. जिसके बाद भाजपा नेता और उनके समर्थकों ने उसे पुलिस के चंगुल से छुड़ा लिया. पुलिस के चगुल से छूटने के बाद हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह वहां से फरार हो गया.

यूपी ब्लॉक प्रमुख चुनाव की अधिसूचना जारी, 8 जुलाई को नामांकन और 10 को वोटिंग

बता दे कि हिस्ट्रीशीटर मनोज सिंह ने 21 मार्च को एक इंटर के छात्र को गोली मारकर फरार हो गया था. जिसके बाद पुलिस ने छात्र की हत्या के प्रयास में मुकदमा दर्ज किया था. साथ ही मनोज सिंह की तलाश भी कर रही थी. इसके साथ ही आरोपी मनोज के खिलाफ एक घर के बाहर चोरी करने की भी रिपोर्ट दर्ज हुई है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें