कानपुर: इत्र-जूते के बाद अब मटर और दाल के कारोबारियों के ठिकानों पर IT छापेमारी

Indrajeet kumar, Last updated: Fri, 7th Jan 2022, 3:33 PM IST
  • यूपी में इत्र और जूते कारोबारियों के बाद अब अब मटर कारोबारी के ठिकाने पर आयकर विभाग ने ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है. IT की पांच टीमों ने मटर कारोबारियों के कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. छापेमारी के बाद शहर के व्यापारी सहमे हुए हैं. इस छापेमारी के दौरान इनकम टैक्स की टीम ने एक कारोबारी को अपने साथ पूछताछ के लिए ले गई.
रेड के दौरान पूरे घर को खंगाल रही IT की टीम

कानपुर. उत्तर प्रदेश में इत्र और जूते के बाद अब मटर कारोबारी के ठिकाने पर आयकर विभाग ने छापा मार रहा है. आयकर विभाग की 5 टीमें मटर कारोबारियों के कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. मिली जानकारी के मुताबिक दाल कारोबारी के ठिकानों पर भी छापेमारी चल रही है. शहर में लगातार हो रही छापेमारी से हड़कंप का माहौल है. इलाके के कारोबारी सहमे हुए हैं. आयकर विभाग की टीम में सुबह से ही मटर कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी कर रही है. करीब 5 घंटे से ज्यादा समय तक यह छापेमारी चली जिसमें आयकर विभाग की टीमों ने पूरा घर खंगाल डाला. इनकम टैक्स विभाग की टीम एक व्यापारी को पूछताछ के लिए भी साथ ले गई. साथ ही जांच टीम ने छापेमारी के दौरान मिले कागजात को अपने कब्जे में ले लिया है.

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में आयकर विभाग सख्ती से छापेमारी कर रहा है. आयकर विभाग की टीमें लगातार छापेमारी कर रही है. कन्नौज के कारोबारी पीयूष जैन के घर से शुरू हुई डेट अब तक जारी है. आयकर विभाग ने उज्जैन के कई ठिकानों से अरबों रुपए से ज्यादा नगद कैश और 23 किलो सोना भी बरामद किया था. आयकर विभाग ने सपा एमएलसी इत्र कारोबारी पुष्पराज जैन और मलिक मियां समेत कई कारोबारियों के ठिकानों पर छापेमारी की. आयकर विभाग की छापेमारी का सिलसिला यहीं नहीं रुका, आईटी ने अखिलेश के करीबी बिल्डर और आगरा के जूता कारोबारी के घर में भी छापेमारी की. जिसके बाद आज सुबह मटर कारोबारी के यहां छापेमारी चल रही है.

कानपुर: दाल कारोबारी गौरव जयसवाल के ठिकानों पर I-T रेड, दिल्ली से सुबह 5 बजे पहुंची टीम

पीयूष जैन के घर पर छापा के दौरान 197 करोड रुपए नगद और 23 किलो सोना बरामद किया गया था. इसके बाद पुष्पराज जैन समेत और भी कई इत्र कारोबारियों के घर पर छापा मारा गया. इसके साथ ही आगरा के कई जूता कारोबारियों पर भी आयकर विभाग ने शिकंजा कसा है. और बीते कई दिनों से अब तक छापेमारी चल रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें