एशियन चैंपियनशिप में कानपुर की बेटियों ने किया नाम रौशन! योग में 3 को गोल्ड मेडल

Smart News Team, Last updated: Fri, 18th Sep 2020, 10:06 PM IST
  • ऑनलाइन एशियन योग चैंपियनशिप में कानपुर की तीन बेटियों ने गोल्ड मेडल जीता. कानपुर की भूमि, आयुषि और कृति ने अलग-अलग आयु वर्गों में स्वर्ण पदकर जीतकर शहर का नाम रोशन किया. 
एशियन योग चैंपियनशिप में भूमि,आयुषि और कृति ने गोल्ड मेडल जीते.

कानपुर. एशियन योग चैंपियनशिप में कानपुर की फाइव स्टार वेलफेयर एंड स्पोर्ट्स क्लब के खिलाड़ियों का दमखम देखने को मिला. कानपुर की ओर तीन खिलाड़ियों ने स्वर्ण पदक जीता. ऑनलाइन हुई इस प्रतियोगिता में उत्तर प्रदेश से 500 से अधिक खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया.

9 सितंबर को ऑनलाइन हुई एशियन योग चैंपियनशिप में कानपुर की भूमि त्रिपाठी, आयुषि सिंह और कृति चौरसिया ने गोल्ड मेडल जीते. भूमि ने अंडर-12 आयु वर्ग में स्वर्ण पदक जीता. भूमि कानपुर के जरौली गांव की रहने वाली हैं. भूमि की मां निशा शुक्ला खुद एक स्पोर्ट्स टीचर और राष्ट्रीय स्तर की एथलीट हैं. मां निशा और मौसी वंदना ने भूमि को योग में आगे जाने के लिए प्रेरित किया. भूमि ने 2019 में कानपुर योग चैंपियनशिप में स्वण पदक जीता था और 2020 में कानपुर योग एसोसिएशन की योग प्रतियोगिता में भी गोल्ड मेडल जीता था.

लखनऊ-कानपुर में कोरोना का कहर, मिले 24 घंटे में 16 सौ से ज्यादा मरीज, 29 की मौत

एशियन योग चैंपियनशिप में अंडर-14 आयु वर्ग में स्वर्ण पदक जीतने वाली आयुषि सिंह नौबस्ता की रहने वाली हैं. आयुषि ने 2019 में कानपुर सहोदय स्कूल योग चैंपियनशिप में गोल्ड मेडल जीता और 2020 में ऑनलाइन कानपुर योग चैंपियनशिप में सिल्वर गोल्ड अपने नाम किया था. आयुषि के पिता अनुप सिंह ने बेटी को योग में आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया. उनका सपना है उनकी बेटी योग में अंतर्राष्ट्रीय मेडल जीते. 

कोरोना काल में कानपुर की लेदर इंडस्ट्री को भारी नुकसान! निर्यात हुआ आधा

इस चैंपियनशिप में कानपुर को एक और गोल्ड मेडल दिलाने वाली कृति चौरसिया कानपुर के पांडु नगर की रहने वाली हैं. कृति ने 2019 में स्टेट योग चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था. कृति चौरसिया के पिता शिशिर चौरसिया एक कारोबारी हैं और वो अपनी बेटी के साथ योग करते हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें