खाली अकाउंट से 2.10 लाख का चेक पास, अब बैंक अधिकारी पैसा लौटाने को बना रहे दबाव

Smart News Team, Last updated: 15/10/2020 01:54 PM IST
  • कानपुर में खाली बैंक अकाउंट से अधिकारियों ने 2.10 लाख का चेक पास कर दिया. चेक पास होने के पीछे तकनीकी खराबी बताई है. वहीं बैंक अधिकारी खाताधारक पर पैसा लौटाने का दबाव बना रहे हैं. 
कानपुर में खाली बैंक अकाउंट से पास किया 2.10 लाख का चेक, अधिकारियों ने पुलिस में की शिकायत. (प्रतीकात्मक)

कानपुर. दक्षिण कानपुर में एक बैंक में तकनीकी दिक्कत के चलते चेक से 2.10 लाख रुपए का भुगतान उस खाते से कर दिया गया जिस खाते में रुपए ही नहीं थे. इस मामले में बैंक अब खाताधारक पर रुपए वापस लेने के लिए दबाव बना रहा है. पुलिस के माध्यम से भी दबाव बनाया जा रहा है जिसके कारण भुगतान लेने वाले खाताधारक ने कोर्ट में गुहार लगाई है. यह घटना बैंक ऑफ बड़ौदा की है जो बर्रा रोड पर स्थित है.

साहिल अंसारी बर्रा विश्वबैंक के रहने वाले हैं जो गाड़ियों की खरीद फरोख्त का काम करते हैं. साहिल के अनुसार विनोद दुबे जोकि चकेरी पटेल नगर के निवासी है की पत्नी के नाम एक पिकअप गाड़ी ट्रांसफर की गई थी. 

विनोद दुबे को बकाया 2.10 लाख रुपए साहिल को देने थे. इसके लिए विनोद ने साहिल को सिक्योरिटी के रूप में बैंक ऑफ बड़ौदा का चेक दिया था. बीते पौने 2 साल के बाद भी रुपए नहीं दिए जाने पर साहिल ने चकेरी थाने में शिकायत कर दी. पुलिस की अगुवाई में साहिल ने कर्रही क्षेत्र में स्थित बैंक ऑफ बड़ौदा में 11 अगस्त को रकम भर कर चेक लगा दिया. 

कानपुर: लाला लाजपत राय अस्पताल में नान कोविड मरीजों का इलाज 15 अक्टूबर से शुरू

13 अगस्त को चेक क्लियर होने के बाद बैंक ने 29 अगस्त को यह नोटिस भेजा कि चेक बैंक की तकनीकी खामी की वजह से क्लियर हुआ है आपको पूरे पैसे वापस करने होंगे. जब साहिल बैंक पहुंचा तो पुलिस ने उसे धमकाया और कार्रवाई करने के लिए कहा. इस पूरे मामले के चलते व्यापारी साहिल ने कोर्ट में गुहार लगाई है. 

कानपुर नगर निगम ऑफिस पर सपाइयों का हल्ला बोल, हाउस टैक्स लूट का आरोप

इंस्पेक्टर हरमीत सिंह ने कहा कि धोखाधड़ी में लिखवाई गई बैंक की रिपोर्ट के बाद बैंक से खाते में जमा हुए रुपए वापस करने होंगे. इस मामले पर बैंक ऑफ बड़ौदा की कर्रही शाखा के मैनेजर दिलीप शुक्ला का कहना है कि बैंक की फॉल्ट के कारण चेक पेमेंट पास हो गई थी. फिलहाल इस मामले की थाने में एफआईआर करवा दी गई है. इससे ज्यादा जानकारी देने के लिए रीजनल ऑफिस के अधिकारी अधिकृत हैं. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें