कानपुर: आईपीएल में दे दनादन सट्टेबाजी में धड़ल्ले से बिक रहे कीपैड वाले मोबाइल

Smart News Team, Last updated: Wed, 30th Sep 2020, 7:53 PM IST
  • आईपीएल का असरकीपैड वाले मोबाइल पर देखा जा सकता है. कानपुर में रोजाना के 700-800 फोन लगातार बिक रहे हैं जो की सामान्य से 7 से 8 गुना है.जानकारों का मानना है की सट्टेबाज इस फोन का इस्तेमाल 3-4 दिन के लिए करते है और बाद में ट्रेस होने के डर से इसे तोड़ देते हैं.
प्रतीकात्मक फोटो 

कानपुर. आईपीएल के शुरू होते ही कानपुर के सट्टेबाज भी अब मैदान में आ गए हैं. इसका असर अब मोबाइल की बिक्री पर देखा जा रहा है.  वो भी कीपैड वाले मोबाइल पर देखा जा सकता है. कानपुर में रोजाना के 700-800 फोन लगातार बिक रहे हैं जो की सामान्य से 7 से 8 गुना है. जानकारों का मानना है की ये फोन सस्ते है इसलिए सट्टेबाज इस फोन का इस्तेमाल 3-4 दिन के लिए करते है और बाद में ट्रेस होने के डर से इसे तोड़ देते हैं.

कानपुर मोबाइल डीलर्स एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष सुरेश सिंहवानी ने बताया है कि कीपैड वाले मोबाइल की डिमांड हमारे यहाँ कुछ समय से बढ़ी है. स्मार्ट फोन के दौर में इसके ग्राहक की अच्छी ख़ासी है लेकिन इस महीने सस्ते फोन के ग्राहक अचानक बढ़े हैं. मंत्री यूपी सराफा एसोसिएशन रामकिशोर मिश्रा ने कहा है अगर पिछले रिकॉर्ड पर नजर डालें तो पता चलता है आईपीएल से पहले सोने के भाव गिरतें हैं.  इस बार भी कुछ ऐसा ही देखने को मिल रहा है. इसका कारण है निवेशक और सट्टेबाज सोने से पैसा निकालकर क्रिकेट मैचों पर दांव खेल रहे हैं.  

67 करोड़ का इनकम टैक्स कर दिया माफ, CAG ने पकड़ा करप्शन का मामला

आईपीएल की इंतज़ार सट्टेबाज को काफी ज्यादा रहता है इसमे एक-एक गेंद पर कितने रन बनेंगे, कौन सा बैट्समैन कितने रन बनाएगा, पूरी पारी में कितने रन बनेंगे इन सभी के लिए सट्टेबाजी होती है. अन्य उपकरण काफी महंगे पड़ते हैं. इसलिए कीपैड वाले फोन काफी किफ़ायती पड़ते है तो सट्टेबाज की ये पहली पसंद बन गए हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें