कानपुर: गुरुद्वारा नामदेव पहुंचे JP नड्डा, CM योगी, आज BJP बूथ अध्यक्ष सम्मलेन को करेंगे संबोधित

Nawab Ali, Last updated: Tue, 23rd Nov 2021, 1:54 PM IST
  • भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश एक सीएम योगी आदित्यनाथ आज कानपुर में गुरुद्वारा नामदेव पहुंचे जहां पर दोनों ने गुरु ग्रंथ साहिब का दर्शन कर मत्था टेका. जेपी नड्डा आज कानपुर में 20 हजार से ज्यादा बूथ अध्यक्षों को संबोधित करेंगे.  
बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा  और सीएम योगी आदित्यनाथ समेत कई नेता कानपुर गुरुद्वारा नामदेव पहुंचे. 

लखनऊ. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री सुबह 11 बजे चेकरी एयरपोर्ट पर पहुंचे जहां से सीएम योगी और जेपी नड्डा का काफिला काफिला किदवई नगर स्थित गुरुद्वारा नामदेव पहुंचा. जेपी नड्डा और सीएम योगी ने गुरुद्वारा गुरु ग्रंथ साहिब का दर्शन कर मत्था टेका. इस दौरान दोनों ही नेताओं का सिख समाज की ओर से स्वागत सत्कार किया गया. सीएम योगी आदित्यनाथ और जेपी नड्डा 15 मिनट गुरुद्वारा नामदेव में रुकने के बाद दोनों नेता नौबस्ता स्थित भाजपा के क्षेत्रीय कार्यालय के लिए रवाना हुए जहां पर उन्होंने  नवनिर्मित कार्यालय का उद्घाटन किया.

जेपी नड्डा आज कानपुर के निराला नगर रेलवे ग्राउंड में बुंदेलखंड क्षेत्र के में बूथ अध्यक्षों के सम्मलेन को संबोधित करेंगे जिसमें डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य, प्रदेश अध्यक्ष स्वतन्त्र देव सिंह, प्रदेश प्रभारी राधा मोहन सिंह, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल भी शामिल होंगे. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों 2022 को देखते हुए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा बूथ जीता, चुनाव जीता के मंत्र पर अभियान चलाये हुए हैं जिसके तहत आज वो 20 हजार से ज्यादा बूथ अध्यक्षों को संबोधित करेंगे. कार्यकर्ताओं के इस सम्मलेन में जेपी नड्डा बूथ अध्यक्षों को कई दिशा निर्देश देंगे जिससे की आने वाले विधानसभा चुनावों में भाजपा बुंदेलखंड क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन कर सके.

PM मोदी के बाद प्रियंका गांधी की महोबा में रैली, भीड़ जुटाने को कानपुर से पहुंचेगी 200 बसें

आपको बता दें कि बुंदेलखंड क्षेत्र में 52 विधानसभा सीटें आती हैं जिनमें से साल 2017 के विधानसभा चुनावों में भाजपा पांच सीटें हार गई थी. अब भाजपा इन 52 सीटों पर जीत के लिए तैयारियों में जुट गई है. भाजपा कानपुर की ही छावनी, सीसामऊ, आर्यनगर विधानसभा सीटें हार गई थी.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें