बारात में आया लड़का बना दूल्हा, कानपुर की इस अनोखी शादी को सुनकर हर कोई हैरान

Smart News Team, Last updated: Mon, 17th May 2021, 12:46 PM IST
  • कानपुर के नर्वल रायपुर में एक ऐसी शादी हुई जिसमें दूल्हे को पता ही नहीं था कि उसके फेरे होने वाले हैं. इस अनोखी शादी के चर्चे पूरे कानपुर में किए जा रहे हैं. बारात में आए एक युवक को दूल्हा बनाकर सात जन्मों के रिश्ते में बांध दिया जाता है. 
कानपुर की अनोखी शादी, बारात में आए युवक को बनाया दूल्हा.

कानपुर. कानपुर में एक अनोखी शादी का मामला सामने आया है. कानपुर के महाराजपुर थाने के नर्वल इलाके में शादी के लिए बारात में आए युवक को ही पकड़कर फेरे करा दिए गए. इस शादी के चर्चे पूरे इलाके में हो रहे हैं. नर्वल रायपुर में रहने वाले परिवार की बेटी की शादी थी जिसमें यह पूरा किस्सा हुआ.

मिली जानकारी के अनुसार लड़की की शादी पड़ोस के गांव पाल्हेपुर में तय हुई थी. बीते शुक्रवार को शादी होनी थी. शादी के बारात दरवाजे पर आ गई लेकिन दूल्हा कहीं गायब हो गया. दूल्हे के गायब होने पर सभी घराती और बरातियों में हड़कंप मच गया. दूल्हे का परिवार अपने लड़के को खोजने में जुट गया. वहीं कन्या पक्ष दूल्हे के इंतजार में बैठ गया. जब काफी देर यही सिलसिला चलता रहा तो दूल्हे के परिवार ने हाथ जोड़ लिए.

दुल्हन को जब दूल्हे के भाग निकलने की बात पता चली तो उसे भी झटका लग गया. इसके बाद लड़की वालों को अपनी बेटी की शादी और सामाजिक प्रतिष्ठा की चिंता होने लगी. ऐसे में उन्होनें दूल्हे के पिता और बिचौलिए को पकड़ लिया. इसपर बिचौलिए ने अपने भाई की शादी का प्रस्ताव रखा जो उस वक्त बाराती बनकर आया था.  

कानपुर: रोड पर बर्थडे मनाने के दौरान राहगीर को पीटा, 35 लोगों के खिलाफ FIR दर्ज

ऐसे में लड़की के परिवार वालों को दूसरा रास्ता नजर नहीं आया और उन्होनें हां कर दी. बारात में आए लड़के को दूल्हा बनाकर मंडप में बैठा दिए गया. रस्में शुरू हो गईं और दोनों के फेरे पड़ गए. बेटी की शादी होने के बाद पिता ने गायब दूल्हे और उसरे परिवार पर थाने में शिकायत दर्ज करा दी है.

नर्वल थाने के इंस्पेक्टर शेष नारायण पांडेय का इस मामले पर कहना है कि बारात से ठीक पहले दूल्हे धर्मेंद्र के गायब होने की सूचना पिता धर्मपाल ने दी थी. गुमशुदगी का मामला दर्ज करके तलाश की जा रही है. 

IIT कानपुर का दावा- नदी में बहाए शवों का धुल सकता है कोरोना लेकिन नहीं होगा नष्ट 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें