राहत: कानपुर के सिग्नेचर सिटी बस स्टेशन से दिसंबर से दौड़ेंगी रोडवेज की बसें

ABHINAV AZAD, Last updated: Sat, 6th Nov 2021, 9:03 AM IST
  • सिग्नेचर सिटी विकास नगर में बनाए गए बस स्टेशन का शुभारंभ दिसंबर में मेट्रो परियोजना के साथ ही कराने की तैयारी है. यहां से शुरूआत में तकरीबन 100 बसों का संचालन होगा, लेकिन धीरे- धीरे बसों की संख्या बढ़ाकर ढाई सौ किया जाएगा.
(प्रतीकात्मक फोटो)

कानपुर. बस यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए अच्छी खबर है. जल्द ही झकरकटी बस स्टेशन का भार कम हो जाएगा. ऐसा माना जा रहा है कि सिग्नेचर सिटी विकास नगर में बनाए गए बस स्टेशन का शुभारंभ दिसंबर में मेट्रो परियोजना के साथ ही कराने की तैयारी है. जिसके बाद लोगों को रावतपुर, कल्याणपुर, पनकी आदि क्षेत्र के लोगों को लखनऊ , सीतापुर, बाराबंकी, हरदोई आदि क्षेत्रों में जाने के लिए झकरकटी बस स्टेशन नहीं जाना होगा.

मिली जानकारी के मुताबिक, सिग्नेचर सिटी विकास नगर में बनाए गए बस स्टेशन शुरू होने के बाद शुरूआत में तकरीबन 100 बसों का संचालन होगा, लेकिन धीरे- धीरे बसों की संख्या बढ़ाकर ढाई सौ किया जाएगा. बताते चलें कि विकास नगर में परिवहन निगम का डिपो है. वहां से विभिन्न बस स्टेशनों के लिए बसे भेजी जाती हैं. निगम की भूमि पर ही कानपुर विकास प्राधिकरण ने सिग्नेचर सिटी की स्थापना किया और निगम से हुए अनुबंध के अनुसार ही बस स्टेशन भी बनाया.

दिवाली के दिन कानपुर में फूटा जीका वायरस का बम, 56 नए संक्रमित मरीजों की पुष्टि

बता दें कि फिलहाल 14 सौ बसों का आवागमन झकरकटी बस स्टेशन से होता है. झकरकटी बस स्टेशन से राजधानी दिल्ली, राजस्थान के साथ ही सूबे के विभिन्न जिलों के लिए बसें जाती हैं. साथ ही लखनऊ, बाराबंकी, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, फर्रुखाबाद, कन्नौज, अलीगढ़ की ओर जाने वाली बसें अभी झकरकटी से ही जाती हैं. दरअसल, इन बसों को जगह- जगह जाम में भी फंसना पड़ता है. इस समस्या का समाधान अब हो जाएगा, क्योंकि विकास नगर से ही लखनऊ, हरदोई आदि क्षेत्रों की बसों का संचालन किया जाना है. बताते चलें कि वैसे तो यह बस स्टेशन जनवरी 2020 में शुरू होना था, लेकिन कोरोना संक्रमण के बढ़े मामलों की वजह से निर्माण का कार्य रुक गया था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें