CM योगी ने जाना कानपुर के अस्पतालों का हाल, कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयारी

Smart News Team, Last updated: Sat, 15th May 2021, 11:30 AM IST
सीएम योगी आदित्यनाथ में कानपुर शहर के कोविड-19 सुविधा संबंधी जानकारी लेने के लिए मेयर प्रमिला पांडेय के पास शुक्रवार शाम 4 बजे फोन किया. मेयर ने उनको शहर की जानकारी देते हुए. कानपुर में बच्चों के इलाज के लिए दो कोविड-19 अस्पताल बनाने का प्रस्ताव रखा है.
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कानपुर के मेयर से फोन पर बात किया. (फाइल फोटो)

कानपुर : कानपुर शहर में कोरोना की तीसरी लहर आने से पहले कानपुर की मेयर ने संक्रमित बच्चों के इलाज के लिए दो हॉस्पिटल बनाने का प्रस्ताव प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने रखा. मेयर ने आशंका जताई है कि तीसरी लहर बच्चों को ज्यादा प्रभावित कर सकती है. इस लिए तीसरी लहराने से पहले कानपुर शहर के जागेश्वर अस्पताल और चाचा नेहरू अस्पताल को बच्चों के कोविड-19 अस्पताल में बदल दिया जाए. फिलहाल इस अस्पताल में बच्चों को भर्ती करने के लिए कितने बेड , मेडिकल उपकरण की जांच करना अभी बाकी है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कानपुर शहर का हालचाल जानने के लिए कानपुर की मेयर प्रमिला पांडे के पास फोन किया था. 

शाम 4 बजे किए गए फोन को पर मुख्यमंत्री और कानपुर मेयर के बीच बातचीत शुरू हुआ. मुख्यमंत्री ने मेयर से कानपुर शहर के कोरोना संक्रमित मरीजों के लिए ऑक्सीजन बेड दवाई और उपकरण जैसी सुविधा के बारे में पूछा. प्रमिला पांडेय ने कानपुर शहर की सारी स्थिति सीएम को बताया. इसी दौरान प्रमिला पांडे ने मुख्यमंत्री से आने वाले तीसरे लहर से पहले शहर में छोटे बच्चों के इलाज के लिए दो कोविड अस्पतालों को बनाने के लिए निवेदन किया.

बकाया बिल के चलते परिजनों को नहीं सौंपा शव, डीएम के आदेश पर हॉस्पिटल पर FIR

इस पर मुख्यमंत्री ने उनसे दोनों अस्पताल के प्रस्ताव रिपोर्ट को अपने पास भेजने को बोला. साथी एक रिपोर्ट की कॉपी कानपुर शहर के जिला अधिकारी के पास भेजने को कहा है. साथी मेयर प्रमिला पांडे ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मिलने का समय भी मांगा है. सीएम और मेयर के फोन पर बात होने के बाद नगर आयुक्त ने अक्षय त्रिपाठी ने मेयर के बताए गए दोनों अस्पतालों के बारे में जानकारी लेना शुरू कर दिया है और जल्द ही इस पर एक रिपोर्ट तैयार की जाएगी.

कानपुरः अपाहिज बेटी को बचाने गए परिजनों को दबंगों ने पीटा, पिता ICU में भर्ती

UP सरकार का सभी जिलाधिकारियों को निर्देश-किसी भी हाल में नदी में शव ना बहाए जाएं

UP बोर्ड में अब NCC भी वैकल्पिक विषय ले सकेंगे 10वीं-12वीं के छात्र, फुल डिटेल्स

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें