चकेरी में दो पक्षों में हुए विवाद से सीएम योगी नाराज, सख्त कार्रवाई के निर्देश

Smart News Team, Last updated: Mon, 16th Nov 2020, 9:38 PM IST
  • कानपुर के चकेरी में दो पक्षों के बीच जमकर हुए विवाद में युवक की मौत के बाद क्षेत्र में बनी तनाव की स्थिति की जानकारी होते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नाराजगी व्यक्त करते हुए आरोपियों पर कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे. जिसके बाद पुलिस ने तेजी दिखाते हुए 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा.
कानपुर के चकेरी में दो पक्षों के बीच जमकर हुए विवाद में युवक की मौत

कानपुर: उत्तर प्रदेश के कानपुर में थाना चकेरी के अंतर्गत दो पक्षों में जमकर हुए विवाद में युवक की मौत के बाद उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कि नाराजगी साफ तौर पर दिख रही है.उन्होंने कानपुर पुलिस को कड़े निर्देश देते हुए कहा है कि आरोपियों के ऊपर कठोर से कठोर कार्रवाई की जाए और वही मामले में लापरवाह पुलिस वालों पर भी कार्रवाई की जाए.जिसके बाद कानपुर पुलिस ने तेजी दिखाते हुए चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही अन्य आरोपियोंं की गिरफ्तारी के लिए टीम गठित कर दी गई है.

इसी के साथ घटना में प्रथम दृष्टि पुलिस वालों की लापरवाही को देखते हुए चौकी प्रभारी जाजमऊ,थाना चकेरी के उप निरीक्षक अनुराग सिंह व आरक्षी रामवीर को तत्काल प्रभाव से लाइन हाज़िर कर दिया गया है साथ ही दोनों के ऊपर विभागीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं. बताते चलें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ में शोक संवेदना जताते हुए पीड़ित परिवार को 5 लाख की आर्थिक मदद की घोषणा भी की है.

पाकिस्तान जेल में 8 साल तक बंद शम्शुद्दीन कानपुर लौटे तो मोहल्ले में मनी दिवाली

गौरतलब है कि रविवार देर रात कानपुर में थाना चकेरी के अंतर्गत पानी की छींटें पड़ जाने के चलते दो पक्षों में जमकर विवाद हो गया था और देखते ही देखते मारपीट व पथराव होने लगा था.मारपीट व पथराव की जानकारी होते ही मौके पर भारी पुलिस फोर्स पहुंच गई लेकिन तब तक एक पक्ष का एक युवक गंभीर रूप से घायल होकर जमीन पर पड़ा हुआ था.जिसे आनन-फानन में पुलिस उपचार के लिए हैलट अस्पताल लेकर पहुंचे जहां डॉक्टर ने युवक को मृत घोषित कर दिया था. युवक की मौत की जानकारी होते ही क्षेत्र में तनाव की स्थिति पैदा हो गई थी.जिसे देखते हुए मौके पर भारी पुलिस फोर्स तैनात कर दी गई था.और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने ताबड़तोड़ दबिश दी थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें