यूपी में इस तारीख से खुलेंगे सभी स्कूल, CM योगी का निर्देश- 50% छात्रों की हो उपस्थिति

Smart News Team, Last updated: Mon, 2nd Aug 2021, 8:18 PM IST
  • सीएम योगी आदित्यनाथ ने दिए निर्देश, उत्तर प्रदेश में 16 अगस्त से 50% छात्रों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे स्कूल
  • कॉलेज और यूनिवर्सिटी को भी 1 सितंबर से खोलने के निर्देश, 5 अगस्त से शुरू होगी प्रवेश प्रक्रिया 
  • 9वीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए ही खुलेंगे स्कूल, कोविड नियमों का पालन करना अनिवार्य 
सीएम योगी ने दिए निर्देश, 16 अगस्त से 50% छात्रों की उपस्थिति के साथ खुलेंगे UP के स्कूल

कानपुर. देशभर में जैसे-जैसे कोरोना का कहर कम होता जा रहा है वैसे-वैसे राज्य सरकारों द्वारा पाबंदियां हटाई जा रही हैं. मध्य प्रदेश, झारखंड, गुजरात, बिहार, उत्तराखंड समेत कई राज्यों में स्कूल खोलने के फैसले के बाद अब उत्तर प्रदेश सरकार ने भी 50 फ़ीसदी उपस्थिति के साथ स्कूल खोलने के निर्देश दे दिए हैं. बता दें कि यूपी में 9वीं से 12वीं कक्षा तक के छात्रों के लिए ही स्कूल खोले जायेंगे. इतना ही नहीं राज्य सरकार ने कॉलेजों और यूनिवर्सिटी को भी 1 सितंबर से खोलने के निर्देश जारी किए हैं.

यूपी सरकार ने आज शिक्षा से संबंधित कई अहम फैसले लिए हैं. छात्रों के लिए स्कूल खोलने के अलावा माध्यमिक शिक्षा विभाग के प्रोमोटेड छात्रों के स्नातक में प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश भी दिए गए हैं. बता दें कि कॉलेज/यूनिवर्सिटी में छात्रों की प्रवेश प्रक्रिया 5 अगस्त से शुरू हो जाएगी. आज से कई राज्यों में स्कूल खोल दिए गए हैं जिसके बाद यूपी सरकार ने भी स्कूलों को खोलने का बड़ा फैसला लिया है. यह फैसला मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को हुई लोक भवन में टीम 9 की बैठक में लिया गया. मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद स्कूलों को खोले जाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं.

UGC NET Update: उम्मीदवारों को मिली बड़ी राहत, UGC NET परीक्षा नोटिफिकेशन जारी

राज्य में स्कूल खोले जाने के साथ साथ सरकार ने कई नए नियम भी बनाए हैं जिनका पालन करना अनिवार्य होगा. बता दें कि छात्रों को स्कूल जाते दौरान कोविड नियमों का पालन करते हुए मास्क पहनना अनिवार्य होगा. साथ ही स्कूल व कक्षाओं को समय समय पर सेनीटाइज किया जाएगा. छात्रों को सोशल डिस्टेंसिंग का भी पालन करना होगा. स्कूलों को निर्देश दिए गए हैं कि स्कूलों में प्रवेश करने से पहले थर्मल स्क्रीनिंग होगी. छात्रों को उनके माता पिता व परिजनों के अनुमति से ही स्कूल बुलाया जाएगा. लिखित सहमति ना होने पर छात्रों को स्कूल में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें