कोरोना संक्रमित पाए जाने के दो दिन बाद युवक की मौत, कहता रहा- पापा मैच खत्म...

Smart News Team, Last updated: 07/09/2020 11:13 AM IST
  • कानपुर के कांशीराम अस्पताल में दो दिन भर्ती होने के बाद ही 26 वर्षीय कोरोना संक्रमित की मौत हो गई. कोविड-19 से ज्यादातर जान गंवाने वाले अन्य बिमारियों से पीड़ित और खासतौर से बुजुर्ग होते थे पर ऐसा आईसीयू में तीन-चार दिन रखने के बाद ऐसा होता था.
कोरोना संक्रमित पाए जाने के दो दिन बाद युवक की मौत (प्रतिकात्मक फोटो)

कानपुर. पापा मैच खत्म.... कहते हुए एक कोरोना संक्रमित युवक की मौत हो गई. यह युवक सिर्फ 26 वर्षीय था जो कि लाल बंगले का निवासी था. कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से वो कानपुर के कांशीराम अस्पताल में भर्ती था. मानसिक संतुलन ठीक न होने की वजह से यह शनिवार को एक ही बात बार-बार दोहराता रहा.

शनिवार को युवक शौचालय के सामने मृत मिला. युवक की मृत्यु पर अस्पताल के अधिकारियों ने दो डाॅक्टरों के खिलाफ गोपनीय रिपोर्ट दी है. इस पर इन डाॅक्टरों पर लापरवाही का इसलिए भी लग रहा क्योंकि शुरू युवक सांस लेने की समस्या थी और कोई दूसरी बीमारी से वो पीड़ित नहीं था और फिर भी वो ऑक्सीजन मास्क निकाल कर शौचालय तक पहुंचा.

कानपुर: कोरोना से मौतों का आंकड़ा बढ़ा, हैलेट में सिस्टम सुधारने के निर्देश

अभी तक कानपुर में कोविड-19 से ज्यादातर मौत बुजुगों की हुई पर इनमें से अधिकतर लोग दूसरी बिमारियों से भी पीड़ित थे. कोरोना से अधिकतर जान गंवाने वाले की मौत तीन-चार दिन आईसीयू में रखने के बाद होती हैं पर युवक दो दिन पहले ही भर्ती हुआ था. इसी वजह से उसकी मौत पर डाॅक्टरों को भी विश्वास नहीं हो रहा. अचानक से युवक की हालत बिगड़ने पर उसे हाई डिपेंडेंसी यूनिट ले जाया गया, जहां उसकी ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ाई गई.

कानपुर: काशीराम अस्पताल में पांच कोरोना मरीजों की मौत, DM ने दिए जांच के आदेश

उसके अल्टर्ड सेंसोरियम (सुध खो बैठना) में हो जाने पर वो बार-बार ऑक्सीजन मास्क निकाल रहा था‌ और इसके देखते हुए कई बार पैरामेडिकल स्टाफ ने मास्क पहनाया और उसके बार-बार मास्क निकालने पर कोशिश भी करी मगर उसे काबू कर पाना मुश्किल था. कांशीराम अस्पताल के सीएमएस डॉक्टर दिनेश सचान का कहना है कि यह पहला ऐसा कोरोना का मामला है जहां इतनी जल्दी गंभीर होते देखा गया है. रात को युवक बार-बार कह रहा था कि पापा मैच खत्म... वो इसके बाद ही रात को न जाने कब अपना ऑक्सीजन मास्क निकालकर शौचालय की ओर चला गया. इस मामले में जहां भी लापरवाही हुई है. उसकी जांच करी जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें